• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Pisces Yearly Horoscope 2021: मीन राशि वालों का वार्षिक राशिफल

By Pt. Gajendra Sharma
|

मीन राशि : सुखों में कमी आएगी

राशि अक्षर : दी, दू, थ, झ, दे, दो, चा, ची

मीन राशि के लिए वर्ष 2021 में स्वराशिगत शनि का गोचर एकादश स्थान में होना श्रेष्ठफलदायक है। अचल संपत्ति की प्राप्ति, भाग्यवृद्धि, धनलाभ, दांपत्य सुख, नौकरी-व्यवसाय में सफलता, इच्छित कार्यो में सिद्धि, मशीनरी, लोहा, पत्थर से जुड़े कार्यो में लाभ, नौकर-चाकर रहेंगे। यदि जन्मकालीन शनि कमजोर होगा तो उपर्युक्त सुखों में कमी आएगी।

 घर में मांगलिक कार्य होंगे

घर में मांगलिक कार्य होंगे

5 अप्रैल 2021 तथा आगे 14 सितंबर से 20 नवंबर तक गुरु नीच राशि में गोचर करने से विद्या में सफलता, संतान सुख, द्रव्यप्राप्ति, नौकरी-व्यवसाय में सफलता, धर्म-कर्म के कार्यो में रुचि, शत्रु नाश, रूके कार्य पूरे होंगे, घर में मांगलिक कार्य होंगे। 12 अप्रैल तक राहु तृतीय और केतु नवम स्थान में गोचर करना शुभफलदायी है। पद-प्रतिष्ठा, साहस, बल में वृद्धि, अचानक धनलाभ, भाग्योदय, नौकरी व्यवसाय में उन्नति, भाई-बहनों को तरक्की, मित्रों से सहयोग, शत्रुओं पर विजय रहेगी।

यह पढ़ें: Vivah Muhurat 2021: अप्रैल से शुरू होंगे शुभ-विवाह मुहूर्त, 37 दिन बजेगी शहनाई

पारिवारिक सुख में कमी

पारिवारिक सुख में कमी

5 अप्रैल से 14 सितंबर तथा 20 नवंबर से 13 अप्रैल 2022 तक गुरु बारहवें स्थान में गोचर करने से दांपत्य जीवन में परेशानी, अपव्यय, राजभय, आर्थिक संकट, मानसिक पीड़ा, व्यावसायिक क्षेत्रों में बाधा, मित्रों से मतभेद रहेंगे। 22 फरवरी तक स्वराशिस्थ मंगल द्वितीय स्थान में रहने से शुभाशुभ फल मिलेंगे। विद्या में सफलता, नेत्ररोग, आय में बढ़ोतरी, वाणी में कटुता, पारिवारिक सुख में कमी, विवाद, व्यवसाय में बाधा आएगी। 22 फरवरी से 14 अप्रैल तक मंगल तृतीय स्थान में रहने से साहस में वृद्धि, भाग्योदय, भाई से सुख, तात्कालिक संकटों से मुक्ति, पद-प्रतिष्ठा, व्यापार-व्यवसाय में वृद्धि, धनलाभ होगा। 14 अप्रैल से 20 जुलाई तक मंगल चतुर्थ-पंचम में रहने से पैतृक संपत्ति को लेकर विवाद, माता को कष्ट, नौकरी कार्य में विघ्न, पारिवारिक जीवन में परेशानी, स्वास्थ्य में गिरावट रहेगी।

आर्थिक

आर्थिक

20 जुलाई से 5 सितंबर तक मंगल के छठे भाव में रहने से शत्रुनाश, महत्वपूर्ण कार्यो में सफलता। 5 सितंबर से 4 दिसंबर तक मंगल सप्तम व अष्टम स्थान में गोचर करेगा, यह शुभ नहीं रहेगा। दांपत्य सुख में कमी, धन हानि, पार्टनरशिप में विवाद, आर्थिक संकट रहेगा।

वर्ष का उपाय

वर्ष का उपाय

बृहस्पति के मंत्रों का जाप करें। बृहस्पति के निमित्त पीले फल, मिठाई का दान करें।

यह पढ़ें: Griha Pravesh Muhurat in 2021: शुभ मुहूर्त में करें नए घर में प्रवेश

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
(Pisces Yearly Horoscope 2021): Find Pisces Yearly Horoscope 2021 based on your life prediction including marriage, education, business, child, family and more. MEEN Varshik Rashifal 2021 will help you to find solution of your problems.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X