• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

जिंदगी बेनूर है तो लीजिए पक्षियों के पंखों का सहारा, हर जगह होगा उजाला ही उजाला

By Pt. Anuj K Shukla
|
Google Oneindia News

लखनऊ। प्रकृति के संसार में हर वस्तु महत्वपूर्ण व उपयोगी है। आप वस्तु की उपयोगिता न जानते हो वह अलग बात है। लेकिन किसी भी वस्तु को अनुउपयोगी नहीं कहा सकता। पेड़, पौधे जानवर आदि सभी का अपना अलग-अलग महत्व है। आज हम बात कर रहें पक्षियों के पंख मनुष्य की समस्याओं का निदान कैसे कर सकते है।

  • नोट-पंखों के प्रयोग हेतु पक्षी से स्वतः ही पृथ्क हुये पंख लें न कि उसे आहत करके पंख प्राप्त करें।
  • कौआ के पंख-अगर किसी को नजर लगी है तो शुक्रवार की शाम कौए के पंख रोगी के सिरहाने रखें उसके बाद एक पात्र में पानी भरकर उन पंखों से रोगी के उपर छींटे दें। ऐसा करने से कैसा भी नजर दोष हो समाप्त हो जाता है।
 याददाश्त बढ़ाना

याददाश्त बढ़ाना

शुक्रवार की रात 7 पंखों को धोकर सफेद धागे बांधें फिर अगले दिन धूप-दीप दिखाकर धागा निकालकर अपने दाॅये हाथ में बाॅधने से स्मरण शक्ति अच्छी हो जाती है।

अगर किसी कार्य में सफलता पाना है तो

अगर किसी कार्य में सफलता पाना है तो

  • फोड़े-फुंसी निवारण-शुक्रवार को कौए के पंख लाकर स्वच्छ पानी में भिगोकर दूसरे दिन पानी को मंदी आॅच पर उबालें, जब पानी आधा रह जाये तो स्वच्छ बर्तन में भर कर रखें। जब भी किसी को फोड़े-फुंसी हो उस जल को रोग वाले स्थान पर लगाने से शीघ्र लाभ मिलता है।
  • विजय प्राप्त के लिए-अगर किसी कार्य में सफलता पाना है या स्पर्धा में विजयी होना है तो मंगलवार को गाय के घी में शक्कर मिलाकर कौए को रोटी खिलायें। स्पर्धा में जाते समय कौए की पीठ का एक पंख जेब में रखने से जीत अवश्य मिलती है।
  • विजय मिलती है

    विजय मिलती है

    चमगादड़ के पंख-विवाद में विजय पाने के लिए रविवार के दिन चमगादड़ के पंख जलाकर उसकी भस्म को ताबीज में भरकर दांयी भुजा में बांधकर कोर्ट जाने से विजय मिलती है।

    चील के पंख-यदि कोई शत्र अनावश्यक रूप से परेशान करे तो चील के पाॅच पंख शत्रु के सर से स्पर्श कराकर कीकर की जड़ में रखें। शीघ्र ही आपका शत्रु आपको परेशान करना बन्द कर देगा।

    उल्लू के पंख

    उल्लू के पंख

    • आजीविका हेतु-जो लोग काम-धन्धे को लेकर बहुत परेशान रहते है। रविवार के दिन पंचमी तिथि हो तो चील के पंख लेकर गूगल की धूनी देकर जलायें फिर उस भस्म को लाल कपड़े में बाॅधकर दाहिने बाजू में बांध लें उसके बाद आजीविका के लिए प्रयास करें सफलता अवश्य मिलेगी।
    • उल्लू के पंख-यदि किसी से आपको जरूरी काम है, लेकिन वो कर नहीं रहा है तो उल्लू के पंख लाकर गूगल की धूप देकर सिंदूर से पूजन करके पूर्णिमा की रात्रि अपनी जेब में रख लें। फिर जिससे काम निकलवाना हो उसके पास जायेंगे तो सफलता अवश्य मिलेगी।
    • परीक्षा में सफलता हेतु-परीक्षा प्रारम्भ होने से 11 दिन पहले उल्लू के 7 पंख लाकर एक सफेद धागे में बाॅधकर फिर पूजन करके अपने सिराहने रख लें। यह 7 दिन तक करें व आठवें दिन रात्रि को 5 पंख परीक्षा कक्ष या स्टडी रूम के बाहर गाड़ दें एवं बचे पंखों को एक सफेद कपड़े में बाॅधकर दाॅयी जेब में रखकर परीक्षा देनें जायें।

English summary
Feathers are ways that Spirit sends us signs.The reason why people of so many native cultures also wore feathers on their heads in various forms, is because they saw them as a sacred connection to God the Creator, and the Divine.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X