Video: लंदन भागने से पहले विजय माल्या ने की थी वित्त मंत्री से मुलाकात, बैठक से किया इंकार


नई दिल्ली। एसबीआई समेत कई बैंकों का 9000 करोड़ से अधिक कर्ज लेकर लंदन भाग चुके भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या ने बड़ा खुलासा किया है। माल्या ने वेस्टमिंस्टर कोर्ट से बाहर निकलते हुए कहा कि उसने लंदन जाने से पहले वित्तमंत्री अरुण जेटली से मुलाकात की। हालांकि उसने वित्त मंत्री के साथ किसी भी तरह की बैठक से इंकार किया।

लंदन के वेस्टमिंस्टर कोर्ट के बाहर विजय माल्या ने पत्रकारों के सामने कहा कि देश छोड़ने से पहले वह अरुण जेटली से मिला था। उसने कहा कि वो बैंकों के साथ सेटलमेंट करना चाहता था और इसी मकसद से वो मामले के निपटारे के लिए वित्तमंत्री अरुण जेटली से मिला था। उसने कहा कि वो बैंक का बकाया कर्ज चुकाने के लिए तैयार था, लेकिन बैंकों ने सेटलमेंट को लेकर सवाल खड़े किए।

माल्या ने कहा कि उन्होंने वित्त मंत्री से कभी औपचारिक मुलाकात नहीं की थी। ये बात अलग है कि संसद परिसर में वो उनसे मिले। उस दौरान ही उन्होंने बताया कि वो लंदन जा रहे हैं। उसने कहा कि एक समय के बाद संसद के अंदर वो कई सहयोगियों से मिले और बताया कि वो चाहते हैं कि बैंकों के साथ उनका मामला सुलझ जाए।

माल्या ने कहा कि उन्हें ऐसा लगता है कि मीडिया को वो इससे ज्यादा जानकारी नहीं देना चाहिए और वो दावे के साथ कह सकते हैं उन्हें भगाने में किसी ने मदद नहीं की। माल्या ने कहा कि सबसे बड़ी बात ये है कि भागने का सवाल ही नहीं पैदा होता है। माल्या ने मीडिया पर आरोप लगाते हुए कहा कि उनके खिलाफ जो भ्रम बनाया गया है वो मीडिया का किया धरा है। उनका पहले से जेनेवा में कार्यक्रम तय था और उसमें हिस्सा लेने के लिए उन्हें जाना ही था।

माल्या मामले पर कांग्रेस ने सरकार को घेरना शुरू कर दिया है। कांग्रेस प्रवक्ता आनंद शर्मा ने कहा कि बैंकों को लुटने के बाद माल्या लंदन भाग गए और ये जानकारी सरकार को थी। कांग्रेस नेता ने कहा कि जब वित्त मंत्री ने उनके मुद्दे पर संसद में बयान दिया तो उन्हें बताना चाहिए था कि वो विजय माल्या से कहां मिले थे।

Have a great day!
Read more...

English Summary

WATCH: Vijay Mallya outside London Court clarifies on his statement that he met Finance Minister before leaving from the country.