6 साल की विनीश्री को है थैलीसिमिया, बोन मैरो ट्रांस्प्लांट के लिए नहीं है पैसे, कीजिए मदद


नई दिल्लीइस गरीब मछुआरे परिवार के पास अपनी बेटी की जान बचाने के लिए उसका बोन मैरो ट्रांस्‍प्‍लांट करवाना है पर इसके लिए उनके पास पैसे ही नहीं है।

दो साल पहले हम एक ऐसे मुकाम पर पहुंच गए थे जहां आत्महत्या करने के अलावा और कोई रास्‍ता नहीं बचा था। हर दिन हम और ज़्यादा ज़िंदगी से निराश और तनाव में घिरते जा रहे थे क्‍योंकि हमारे पास अपनी बेटी की जान बचाने के लिए पैसे नहीं थे। वो मुझसे पूछती है कि अम्‍मा, तुम क्‍यों पैसे मांगने जाती हो, ये सब मुझे अच्‍छा नहीं लगता। अब मैं उसे कैसे बताऊं कि उसकी देखभाल के लिए हमारे पास पैसे तक नहीं है। ये मुसीबत रोज़ हमारे दिल के हज़ारों टुकड़े करती है। मेरी बेटी को थैलीसिमिया की बीमारी है और उसके बोन मैरो ट्रांस्प्लांट के लिए 9 लाख 40 हज़ार रुपए का खर्चा है।

अपनी बच्‍ची की हालत देखकर हर रोज़ मेरा दिल टूटता है लेकिन रोने के अलावा मैं और कर भी क्‍या सकती हूं। मैं मुथुवल्‍ली हूं और मेरी 6 साल की बेटी विनीश्री जन्‍म से ही इस बीमारी से जूझ रही है। जन्‍म के तीन महीने के बाद ही उसे थैलीसिमिया की बीमारी हो गई थी। जब उसके शरीर का तापमान बड़ी तेज़ी से घट और बढ़ रहा था, तब हम उसे कराईकल में डॉक्‍टर के पास ले गए।

इसके बाद हम कराईकल, पॉन्डिचेरी और चेन्‍नई के तीन अस्‍पतालों में अपनी बच्‍ची की जांच करवा चुके थे। तीन महीने की उम्र से ही अपनी बेटी के ब्‍लड ट्रांसफ्यूजन के लिए हमें दर-दर भटकना पड़ रहा है। अभी चेन्‍नई के वीएचएस अस्‍पताल में उसका ब्‍लड ट्रांस्‍फ्यूज्‍ड चल रहा है। चेन्‍नई के अपोलो अस्‍पताल में उसका इलाज हो रहा है।

विनीश्री को है थैलीसिमिया, उसके इलाज में मदद करने के लिए यहां क्लिक करें

मेरे पति अनबाज्हलगन मछुआरे का काम करते हैं और उनकी कमाई से हमारे पूरे परिवार की रोज़ी-रोटी आती है। उनकी मासिक आय लगभग 4 हज़ार रूपए होगी और इसके अलावा हमारे पास कमाई का और कोई साधन नहीं है। यहां तक कि हमारे पास तो कोई कीमती सामान भी नहीं है जिसे बेचकर हम अपनी बेटी के इलाज के लिए पैसे इकट्ठा कर सकें। विनीश्री एक सरकारी स्‍कूल में पहली कक्षा में पढ़ती है।

हमें समझ ही नहीं आ रहा कि 9 लाख 40 हज़ार जितनी बड़ी रकम हम कैसे जुटा पाएंगे। डॉक्‍टरों ने हमें जल्‍द से जल्‍द इलाज की रकम जमा करने को कहा है। हमें सच में आपकी मदद की बहुत ज़रूरत है वरना मेरी बेटी ही नहीं मेरा पूरा परिवार मर जाएगा।

विनीश्री को बचाने में मदद कीजिए

बच्‍चे ही हमारा और हमारे देश का भविष्‍य होते हैं। उन्‍हीं के ज़रिए हम अपने समाज को देखते हैं। ये हमारी भी ज़िम्‍मेदारी है कि विनीश्री भी बाकी बच्‍चों की तरह एक स्‍वस्‍थ जीवन बिता सके। वो भी एक बेहतर जीवन जीने के काबिल हो। आपकी थोड़ी सी भी मदद इस गरीब परिवार के सपने को पूरा कर सकती है, विनीश्री की मदद करने के लिए यहां क्लिक करें।

Have a great day!
Read more...

English Summary

Family of fisherman can’t afford expensive bone marrow transplant for daughter, Please save her life, Your contribution will be a blessing for us.