IIT गुवाहाटी की छात्रा ने हॉस्टल में की आत्महत्या, सुसाइड नोट में इन्हें बताया जिम्मेदार


नई दिल्ली। आईआईटी गुवाहाटी के 18 वर्षीय छात्रा द्वारा आत्महत्या करने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि छात्र ने यह कदम इसलिए उठाया क्योंकि इंजीनियरिंग करने से खुश नहीं था। स्थानीय पुलिस के मुताबिक नागश्री नामक छात्रा का शव गुवाहाटी के बाहरी इलाके स्थित आईआईटी परिसर में अपने धनसिरी हॉस्टल रूम के छत के पंखे से लटका पाया गया।

पुलिस के मुताबिक छात्र ने आत्महत्या उस समय की जब उसकी रूममेट कॉलेज क्लास करने चली गई थी। लेकिन जब वह लौटी तो देखी की कमरा अंदर से बंद था। इसके बाद रूममेट ने नागश्री को फोन किया लेकिन उसने कॉल नहीं उठाया। इसके बाद रूममेट ने इसकी जानकारी हॉस्टल सुरक्षाकर्मी को दी। आनन-फानन में इसकी सूचना पुलिस को दी गई। उसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजे को तोड़ तो छात्रा पंखे से लटका मिला। आईआईटी प्रवक्ता के मुताबिक छात्र ने इसी साल एडमिशन ली था।

कमरे से मिला सुसाइड
पुलिस के छात्रा के कमरे से एक सुसाइड नोट लिखा मिला है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजीव साइकिया के बताया कि छात्र ने सुसाइड में लिखा है कि इंजीनियरिंग बेकार है। वह इंजीनियरिंग में प्रवेश लेकर पश्चाताप हो रहा था। इसके साथ -साथ छात्र ने लिखा कि वह अपने माता-पिता की अपेक्षाओं को कैसे पूरा नहीं कर सकतीं। वहीं आईआईटी गुवाहाटी के प्रवक्ता ने कहा कि हाल ही में कोर्स को ज्वाइन की थी। उसने हाल ही में प्रथम वर्ष के छात्रों के लिए अनिवार्य परामर्श सेंशन भी अटेंड की थी। प्रवक्ता ने दावा किया कि छात्रा से बातचीत में कुछ भी असामान्य नहीं देखा गया था। यहां पर 6000 छात्रों के लिए चार काउंसलर हैं।

यह भी पढ़ें- यहां श्मशान में नहीं बल्कि घरों में लाशें दफनाने को मजबूर हैं लोग, चौंकाने वाली है वजह

Have a great day!
Read more...

English Summary

IIT Guwahati first-year student takes extreme step in hostel room