राजस्थान: आसाराम ने उम्र का हवाला देकर राज्यपाल से मांगी दया, सजा कम करने की भेजी याचिका


जयपुर। राजस्थान की जोधपुर जेल में सजा काट रहे बलात्कार के दोषी आसाराम ने अपनी सजा कम करवाने के लिए राज्यपाल कल्याण सिंह के पास दया याचिका भेजी है। बता दें कि नाबालिग के साथ रेप मामले में दोषी आसाराम जेल में बंद है। 25 अप्रैल को जोधपुर कोर्ट ने आसाराम को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। आसाराम को पांच साल पहले अपने आश्रम में एक नाबालिग के साथ रेप मामले में दोषी ठहराया गया था। सजा को चुनौती देते हुये आसाराम दो जुलाई को हाईकोर्ट गये थे लेकिन सुनवाई के लिए अभी तक याचिका को सूचीबद्ध नहीं किया गया है।

राज्यपाल कल्याण सिंह को हाल ही में आसाराम की दया याचिका मिली है जिसे उन्होंने गृहमंत्रालय को भेजते हुए एक विस्तृत रिपोर्ट तलब की है। आसाराम की दया याचिका के मुताबिक, उन्होंने आजीवन कारावास की सजा को कठोर बताते हुए अपनी उम्र का हवाला दे इसे कम करने की मांग की है। इसके बाद विभाग ने जोधपुर सेन्ट्रल जेल प्रशासन के पास याचिका भेज दी जिसने जिला प्रशासन और पुलिस से एक रिपोर्ट मांगी है। जोधपुर सेन्ट्रल जेल के अधीक्षक कैलाश त्रिवेदी ने बताया, हमें आसाराम की दया याचिका मिली है। हमने इस दया याचिका पर जिला प्रशासन और पुलिस से एक रिपोर्ट मांगी है।

रिपोर्ट मिलने के बाद जेल प्रशासन इसे राजस्थान के महानिदेशक (जेल) को भेजेंगे। 16 साल की लड़की ने अपनी शिकायत में कहा था कि आसाराम ने जोधपुर के निकट मनाई इलाके में स्थित अपने आश्रम में उसे बुलाया और 15 अगस्त 2013 की रात में उसके साथ बलात्कार किया। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर की किशोरी मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में आसाराम के आश्रम में पढ़ाई करती थी।

Have a great day!
Read more...

English Summary

Self-styled godman Bapu Asaram, who was convicted and sentenced to life in prison by a Rajasthan court, for raping a minor girl, has written to Rajasthan Governor for commutation, remission, and suspension of sentence and pardon.