दीवार के पास पेशाब करने को लेकर हुई कहासुनी तो कर दी हत्या

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

वाराणसी। बीते जनवरी माह में चेतगंज थाना क्षेत्र के इंग्लिशिया लाइन पर व्यवसाय संघ के सचिव प्रमोद निगम की हत्या का वाराणसी पुलिस कड़ी मेहनत के बाद खुलासा कर दिया। इस हत्या को लेकर वाराणसी पुलिस की प्रतिष्ठा दाव पर लगी हुई थी क्योंकि जब ये हत्या हुई तब चुनाव की अधिसूचना लागू हो चुकी थी ऐसे में इंग्लिशिया व्यापारी की हत्या को लेकर वाराणसी की पुलिस ने कई स्थानों पर छापेमारी भी की लेकिन सफलता नही मिल पा रही। जब हाईप्रोफाइल हत्या का खुलासा हुआ तो सभी के होश उड़ गए।

दीवार के पास पेशाब करने को लेकर हुई कहासुनी तो कर दी हत्या

पकड़ में आए आरोपियों ने बताया की 21 जनवरी की रात सड़क के किनारे टॉयलेट करते समय मृतक प्रमोद निगम के बेटे अभिषेक से विवाद हो ही रहा था की वह प्रमोद निगम आ गए और बबलू राय नामक आरोपी को मारने लगा जिसके बाद उसे जलालत महसूस हुयी और वो वाराणसी के सामने घाट अपने आवास पर गया और अपने साथी शेषनाथ के साथ घटना स्थल पर आकर गोली मार दी।

कौन हैं ये दोनों आरोपी
दरसल पकडे गए दोनों आरोपी पुराने अपराधी हैं और इनमे से बबलू राय गाजीपुर के एक पूर्व एमएलसी का बॉडीगार्ड रह चुका हैं और कई बार जेल भी जा चुका हैं। उसके साथी शेषनाथ को मालूम भी नहीं था की बबलू उसे लेकर किसी को मारने भी जा रहा है। बबलू ने सिर्फ इतना ही कहा की इंग्लिशिया लाइन पर पेशाब करने को लेकर किसी से मारपीट हुई है और उसे सिर्फ समझना हैं। जबकि बबलू ने पुलिस को बताया की जलालत झेलने के बाद वो काफी गुस्से में था उर घर से वो अपना पिस्टल लेकर आया और मिठाई की दुकान पर खड़े प्रमोद और उसके बेटे अभिषेक दोनों को मरना चाहता था वो तो बेटे का भाग्य अच्छा था और वो बच गया।

क्या कहती है पुलिस
वाराणसी के एसएसपी नितिन तिवारी ने बताया की ये केस हाई प्रोफाइल होने के साथ-साथ ब्लाइंड केस भी था जिसके हमने वाराणसी के चेतगंज पुलिस के साथ साथ क्राइम ब्रांच कू भी लगाए रखा था। मुखबिरों की सूचना मिली और दोनों को घंटी मिल से पकड़ा गया, आरोपी के पास से बरामद पिस्टल दो लाख से ऊपर का है साथ ही एक मोटर साईकिल भी बरामद की गयी है। पेशाब करने को लेकर प्रमोद निगम ने मुख्य अभियुक्त बबलू राय की पिटाई कर दी थी, उसी के अपमान का बदला लेने के लिए बबलू राय ने अपने साथी शेषनाथ शर्मा के साथ मिलकर प्रमोद की हत्या का प्लान बनाया और कुछ ही घण्टे बाद मिठाई की दूकान के पास मोटरसायकिल सवार शेषनाथ और बबलू ने प्रमोद की गोली मार के हत्या कर दी और मौके से फरार हो गए। इन पूरी घटना का पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज भी जारी किया। 
पुलिस के सामने कहा, जेल में बैठे-बैठे मरवा दूंगा अपने दुश्मनों को

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
murder in varansi for modest reason
Please Wait while comments are loading...