मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद मंत्री साहब ने रद्द किया धरना

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। अपनी ही सरकार के खिलाफ धरना देने जा रहे योगी आदित्यनाथ के मंत्री ओमप्रकाश राजभर आखिरकार मान गए हैं, उन्होंने गाजीपुर के जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री को हटाने की मांग लेकर धरना करने का ऐलान किया था। लेकिन आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करने के बाद ओम प्रकाश राजभर ने कल होने वाले अपने धरने को रद्द कर दिया है।

om prakash rajbhar

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को वाराणसी के दौरे पर थे, तकरीबन आठ घंटे के अपने दौरे के बाद दिल्ली रवाना हो गए थे। आज लखनऊ आने के बाद मुख्यमंत्री ने राजभर से मुलाकात की थी। ओम प्रकाश राजभर पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांग जन विकास मंत्री हैं। तकरीबन 20 मिनट तक मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद ओमप्रकाश राजभर ने अपना धरना स्थगित कर दिया।

मुख्यमंत्री से राजभर ने 19 मांगे रखी थी, जिसके बाद उनकी 17 मांगों को स्वीकार कर लिया गया। राजभर ने गाजीपुर के डीएम को हटाने की मांग की थी, लेकिन मुख्यमंत्री इसपर कहा कि आने वाले समय में इसका भी समाधान हो जाएगा। राजभर ने मुख्यमंत्री से कहा था कि अगर जिलाधिकारी को नहीं हटाया गया तो मैं अपना सरकारी मकान, स्टॉफ व गाड़ी छोड़कर गाजीपुर चला जाउंगा और डीएम के खिलाफ धरना करुंगा

इसे भी पढ़ें- IAS अधिकारियों से पीएम बोले- न्यू इंडिया के लिए करें काम, अधिकारियों से करें बात

आपको बता दें कि 14 जून को जब स्थानीय प्रशासन गाजीपुर के रामपुर गांव में जमीन की नाप लेने के लिए पहुंचा था तो यहां लोगों की पुलिस से कहासुनी और झड़प हो गई थी। जिसके बाद यहां लोगों ने विरोध शुरू कर दिया था, प्रशासन का कहना है कि यहां वह अवैध कब्जे को हटाने के लिए आई थी। लेकिन राजभर का कहना है कि डीएम जानबूझकर लोगों को परेशान कर रहे हैं। वहीं इस बाबत गाजीपुर के जिलाधिकारी संजय खत्री का कहना है कि पुलिस के साथ हाथापाई की गई थी, आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Yogi Adityanath minister cancels his protest after the meet with CM. Minister had threatened to protest against DM.
Please Wait while comments are loading...