यूपी शर्मसार: तीन घंटे तक अस्पताल के बाहर जमीन पर तड़पती रही महिला

Subscribe to Oneindia Hindi

इलाहाबाद। इलाहाबाद के पट्टी प्रतापगढ़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के बाहर इंसानियत को शर्मसार करने वाला नजारा देखने को मिला। अस्पताल के बाहर जमीन पर एक महिला जिंदगी और मौत से लड़ रही थी। बदहवास पति कभी एंबुलेंस तो कभी पुलिस को फोन कर मदद मांगता रहा। स्थानीय अस्पताल ने तो उदासीनता की हदें पार करते हुये जमीन पर तड़प रही महिला के संभव इलाज के बजाय अस्पताल के बाहर से ही रेफर कर दिया । सैकड़ों लोग तमाशबीन बने रहे। तीन घंटे बाद एंबुलेंस पहुंची तो महिला को इलाज के लिये शहर ले जाया गया। जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है।

Read Also: दो दिन बाद होना था शादी का तिलक,दोस्त ने मारी गोली, मौत

यूपी शर्मसार: तीन घंटे तक अस्पताल के बाहर जमीन पर तड़पती रही महिला

महिला ने निगला था जहरीला पदार्थ

प्रतापगढ के पट्टी बिरौती गांव की एक महिला ने जहरीला पदार्थ निगल लिया । हालत बिगड़ने पर परिजनों को जानकारी हुई। आनन-फानन में महिला को पट्टी स्थिति सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया। जहां हालत गंभीर बता कर महिला को जिला अस्पताल के लिये रिफर कर दिया गया । महिला को अंदर वार्ड तक ले जाने की भी जहमत नहीं उठाई गई । अस्पताल के बाहर जमीन पर पति मौत से लड़ रही पत्नी के लिये मदद मांगता रहा। लेकिन मदद नहीं मिली।

यूपी शर्मसार: तीन घंटे तक अस्पताल के बाहर जमीन पर तड़पती रही महिला

3 घंटे बाद मिली मदद

पति के पास इतने पैसे नहीं थे कि वह किसी प्राइवेट अस्पताल में जाता। उसकी आस अपनी सरकार पर ही थी। एंबुलेंस व डायल 100 पर कॉल के बाद भी तत्काल मदद की बात तो दूर, 3 घंटे तक वहीं जमीन पर महिला तड़पती रही। पौने घंटे बाद पुलिस पहुंची तो लेकिन वह भी एंबुलेंस से आस लगाये रही। 3 घंटे बाद जब एंबुलेंस आई तो महिला को जिला अस्पताल ले जाया गया।

पुलिस और व्यवस्था पर सवाल

एंबुलेंस अगर सही समय पर न पहुंचे तो उसकी उपयोगिता पर सवाल उठना लाजिमी है। पुलिस अगर सही समय पर घटनास्थल पर न पहुंचे तो भी बेकार है, ऐसा ही कुछ हुआ जब बिरौती गाँव की एक विवाहिता ने जहर खा लिया। आनन-फानन में किसी तरह से परिजनों ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पट्टी ले आये जहां पर डाक्टरों ने रेफर कर दिया। परिजनों ने 108 एंबुलेंस को फोन किया तो वह तीन घंटे बाद पहुंची। वहीं 100 नंबर पुलिस को सूचना देने के बाद 45 मिनट देर से पहुंची। 3 घंटे बाद उसे प्रतापगढ़ ले जाया गया। जहां पर उसकी स्थित गंभीर बनी हुई है।

Read Also: महिला ने साथ सोने से किया इंकार तो युवक ने लगा दी घर में आग

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A woman panted in front of hospital for three hours after that ambulance came to take him to district hospital.
Please Wait while comments are loading...