मेरठ: पत्नी के कैरेक्टर पर था शक, शादी के 19 साल बाद पति ने की आत्महत्या

सुसाइड नोट में उसने अपनी जान देने की वजह अपनी पत्नी अर्चना को बताया था। सुसाइड नोट में धर्मेंद्र ने अर्चना पर बदचलनी का आरोप लगाते हुए कुछ युवकों के नाम भी लिखे थे।

Subscribe to Oneindia Hindi

मेरठ। टीपीनगर थाना क्षेत्र में 19 साल पहले प्रेम विवाह से शुरू हुई एक कहानी का बुधवार को दुखद अंत हो गया। रजिस्ट्री कार्यालय के बाबू ने शिक्षिका पत्नी पर बदचलन होने का आरोप लगाते हुए अपनी लाइसेंसी पिस्टल से खुद का भेजा उड़ाकर जान दे दी। घटना के बाद परिजनों में कोहराम मच गया। पुलिस ने आरोपी पत्नी को हिरासत में लेते हुए मृतक के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

Read more: मुरादाबाद: पेड़ की जड़ से निकले भोले बाबा, तीन दिन में हुए तीन गुना, एक महिला का ख्वाब हुआ हकीकत!

मेरठ: पत्नी के कैरेक्टर पर था शक, शादी के 19 साल बाद पति ने की आत्महत्या

दिल्ली रोड स्थित शिवलोक कॉलोनी में धर्मेंद्र मोहन का परिवार रहता है। धर्मेंद्र रजिस्ट्री कार्यालय में बाबू थे। उनकी पत्नी आरती नजदीक के ही बिंगर्स स्कूल में शिक्षिका हैं। बुधवार की सुबह बच्चों को स्कूल भेजने के बाद आरती भी अपने स्कूल चली गई। घर में धर्मेंद्र और उनके अन्य भाइयों के परिवार मौजूद थे। सुबह करीब नौ बजे परिजनों ने धर्मेंद्र के कमरे से गोली के धमाके की आवाज सुनी तो वो दौड़कर कमरे तक पहुंचे लेकिन कमरे के दोनों दरवाजे भीतर से बंद थे। जिसके बाद परिवार वालों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी।

मेरठ: पत्नी के कैरेक्टर पर था शक, शादी के 19 साल बाद पति ने की आत्महत्या

मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजे का ताला तोड़ा तो भीतर का नजारा देख सबके होश उड़ गए। कमरे में धर्मेंद्र का खून से लथपथ शव पड़ा था। शव के नजदीक ही धर्मेंद्र की लाइसेंसी पिस्टल पड़ी थी। धर्मेंद्र का शव देखते ही परिजनों में कोहराम मच गया। उधर घटना की जानकारी मिलने के बाद अर्चना भी घर पहुंची, उसने पुलिस को बताया कि उसका धर्मेंद्र से कोई विवाद नहीं था। जिसके बाद पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

मेरठ: पत्नी के कैरेक्टर पर था शक, शादी के 19 साल बाद पति ने की आत्महत्या

मीडिया को जरूर देना मेरा सुसाइड नोट

कमरे की तलाशी लेने पर पुलिस को धर्मेंद्र द्वारा लिखा गया सुसाइड नोट बरामद हुआ। सुसाइड नोट में उसने अपनी जान देने की वजह अपनी पत्नी अर्चना को बताया था। सुसाइड नोट में धर्मेंद्र ने अर्चना पर बदचलनी का आरोप लगाते हुए कुछ युवकों के नाम भी लिखे थे। जिनसे अर्चना के संबंधों का जिक्र किया गया था। साथ ही लिखा था कि ये सुसाइड नोट मीडिया को जरूर पढ़वाया जाए, जिससे अर्चना की असलियत सबके सामने आए। फिलहाल पुलिस ने अर्चना को हिरासत में लेते हुए मामले की जांच शुरू कर दी है।

मेरठ: पत्नी के कैरेक्टर पर था शक, शादी के 19 साल बाद पति ने की आत्महत्या

कोर्ट मैरिज से शुरू हुए प्रेम विवाह का दुखद अंत

घटना के बाद सदमे में आए धर्मेंद्र के परिजनों ने बताया कि उनका परिवार काफी शिक्षित परिवारों में है। मृतक धर्मेंद्र चार भाइयों में दूसरे नंबर पर थे। उनका सबसे बड़ा भाई देशराज रजिस्ट्री कार्यालय में ही नौकरी करता है। तीसरे नंबर का भाई जितेंद्र सरूरपुर ब्लॉक में विकास अधिकारी है। वहीं सबसे छोटा राजेश अमेरिका की एप्पल मोबाइल कंपनी में है और वहीं रहता है। परिजनों ने बताया कि सबके खिलाफ जाकर 19 साल पहले धर्मेंद्र ने देवलोक निवासी अर्चना से कोर्ट मैरिज की थी। अर्चना के चाल-चलन को लेकर अक्सर दोनों के बीच विवाद रहता था लेकिन इसका ये अंजाम होगा ऐसी किसी ने कल्पना भी नहीं की थी।

बच्चों का क्या होगा?

धर्मेंद्र की मौत के बाद पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजते हुए अर्चना को हिरासत में ले लिया। जिसके बाद क्षेत्र में यही चर्चा थी कि अब धर्मेंद्र के बच्चों का क्या होगा? क्योंकि यदि अर्चना को धर्मेंद्र की खुदकुशी का जिम्मेदार मानकर जेल भेज दिया जाता है तो उनकी देखरेख की पूरी जिम्मेदारी धर्मेंद्र के भाइयों पर होगी।

Read more: आपके खाने का बढ़ जाएगा जायका, हरी मिर्च दिखाएगी नया कमाल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Wife's character was suspect, husband's suicide after 19 years of marriage in Meerut
Please Wait while comments are loading...