मेरठ: लेडी इंस्पेक्टर ने खोली यूपी पुलिस की पोल, देखिए वायरल वीडियो

इस वीडियो में लेडी इंस्पेक्टर ने जो कुछ कहा है उससे पुलिस महकमे में खलबली मच गई है। आप भी देखिए यह वीडियो

Subscribe to Oneindia Hindi

मेरठ उत्तर प्रदेश में मेरठ की महिला थाना प्रभारी इंस्पेक्टर कंचन चौधरी के वीडियो के वायरल होने से पूरे पुलिस महकमे में सनसनी मचा दी। यह वीडियो गाजियाबाद के कप्तान, उन्नाव पीटीएस के आइजी और गाजियाबाद की महिला इंस्पेक्टर पर सवाल खड़ा कर रही है। Read Also: यूपी पुलिस के सिपाही ने बीच सड़क पर की शर्मनाक हरकतें, देखिए वीडियो

मेरठ: लेडी इंस्पेक्टर ने खोली यूपी पुलिस की पोल, देखिए वायरल वीडियो
 

इस वीडियो में इंस्पेक्टर कहती सुनाई दे रही है कि गाजियाबाद के महिला थाने की इंस्पेक्टर आरती सोनी को उन्नाव पीटीएस के आइजी प्रेम प्रकाश की सिफारिश पर चार्ज दिया गया है। इस वीडियो में कंचन चौधरी ने आईजी और गाजियाबाद की महिला थाना प्रभारी के चरित्र पर भी गम्भीर आरोप लगाए है। इस वीडियो में अधिकारियों के लिए जातिवाद का भी जिक्र किया गया है । वायरल हुआ यह वीडियो न बल्कि अनुशासनहीनता दिखा रहा है बल्कि पुलिस महकमे को बदनाम कर रहा है।

वीडियो में कंचन चौधरी यहां तक कह रही हैं कि खुद गाजियाबाद के कप्तान ने उनसे कहा था कि मेरे ऊपर दबाव है, इसलिए आरती को चार्ज दे रहे हैं। मेरठ की महिला इंस्पेक्टर कंचन चौधरी की इस वायरल वीडियो ने पुलिस महकमे में थाने के चार्ज देने की हकीकत को बयां कर दिया है। कंचन का दावा है कि चार्ज काबलियत पर नहीं बल्कि सिफारिश से मिलता है। उन्होंने बताया गया कि वह नोएडा से गाजियाबाद तैनाती हुई थी।

कप्तान दीपक कुमार ने भाई की शादी के बाद चार्ज देने के लिए कहा था। शादी से लौटे तो बुलाकर कह दिया कि आइजी प्रेम प्रकाश की सिफारिश आई है, दबाव के चलते महिला थाने का चार्ज आरती सोनी को दिया जा रहा है। उसके बाद वहां से डीआइजी ने मेरठ के लिए स्थानांतरण कर दिया। चुनाव तक ही मेरठ में रहना है, उसके बाद आगरा में तैनाती कराएंगी। कंचन चौधरी की वायरल हुई वीडियो अफसरों के दबाव की पोल खोल रही है। आप भी देखिए वीडियो-
 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A video of lady inspector of Meerut went viral on internet. In this video, inspector is opening some secrets about functioning of UP Police.
Please Wait while comments are loading...