शाहजहांपुर: रेप पीड़िता ने दी धमकी, नहीं मिला न्याय तो चुनाव वाले दिन थाने के सामने करेगी आत्महत्या

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

शाहजहांपुर। यूपी के शाहजहांपुर में शिक्षक के रिश्ते को कलंकित करने का मामला सामने आया है। यहां एक प्राईवेट स्कूल के प्रिंसिपल और टीचर पर महिला से दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। दोनों शिक्षक बच्चों के स्कूल न आने के बारे में पूछने महिला के घर पहुंचे थे। महिला को अकेला पाकर दोनों ने तमंचा दिखाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। पीड़िता जब शिकायत करने थाने पहुंची तो आरोप है कि थाना इंस्पेक्टर और थाने के एक दारोगा ने उसे गालियां देकर थाने से भगा दिया।

Read more: पति ने कर दी पत्‍नी की हत्‍या, सास को भी मारी गोली कहा, यूट्यूब से सीखा कारतूस बनाना

शाहजहांपुर: रेप पीड़िता ने दी धमकी, नहीं मिला न्याय तो चुनाव वाले दिन थाने के सामने करेगी आत्महत्या

खास बात ये है कि इधर पुलिस ने रेप पीड़िता को थाने से भगाया और दूसरी तरफ आरोपियों से मिलकर पीड़िता के पती पर मारपीट का मुकदमा दर्ज कर दिया। पीड़िता ने धमकी दी है कि अगर आरोपियों पर कार्यवाही नहीं होती है तो वह चुनाव वाले दिन थाने के सामने अपनी जान दे देगी। अब देखना है कि पुलिस कब तक दुष्कर्म के आरोपियों पर कार्रवाई करती है।

घटना जलालाबाद थाना क्षेत्र की है यहां के एक गांव मे संत माधवाचार्य पब्लिक स्कूल के प्रिंसिपल आलोक शुक्ला और इसी के टीचर अंकुल शुक्ला पर स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों की मां ने दुष्कर्म का आरोप लगया है। पीड़िता ने बताया कि उसके दोनों बच्चे इसी स्कूल में पढ़ते हैं। बीते बुधवार को बच्चे स्कूल नहीं गए थे जिसको पूछने के लिए स्कूल के प्रिंसिपल आलोक शुक्ला और टीचर अंकुल शुक्ला घर आए। जब घर के बाहर से प्रिंसिपल ने बच्चों को आवाज दी तो उसने दरवाजे पर जाकर देखा। दोनों ने पहले तो बच्चों के बारे में पूछा।

शाहजहांपुर: रेप पीड़िता ने दी धमकी, नहीं मिला न्याय तो चुनाव वाले दिन थाने के सामने करेगी आत्महत्या

उसके बाद प्रिंसिपल ने उसके पति के बारे में पूछा तो उसने बताया की वह किसी काम से घर से बाहर गए हैं। उस वक्त बच्चों की मां घर में अकेली थी। इसी का फायदा उठाकर दोनों लोग जबरदस्ती घर में घुस आए और तमंचा दिखाकर महिला को जान से मारने की धमकी देने लगे। तमंचा दिखाकर प्रिंसिपल और टीचर ने उसके साथ दुष्कर्म किया। उसके बाद दोनों लोगों ने धमकी दी कि अगर किसी के सामने मुंह खोला तो जान से मार देंगे।

उसके बाद जब पीड़ित का पति घर आया तो पीड़ित ने पूरी घटना अपने पति को बताई। उसके बाद पति ने सौ नंबर पर फोन कर पुलिस को बुलाया लेकिन जब तक दोनों दुष्कर्म के आरोपी फरार हो चुके थे। उसके बाद पीड़ित और उसका पति शिकायत करने थाने पहुंचा लेकिन वहां भी उसकी एक न सुनी गई। पीड़िता की माने तो जब वह थाने पहुंची तो वहां के इंस्पेक्टर भरत कुमार गौतम और थाने के दारोगा ने उसे गालियां देकर भगा दिया।

जिसके बाद पीड़ित फिर थाने पहुंची लेकिन वहां पर उसकी एक भी नहीं सुनी गई उल्टा पीड़ित के पति पर ही आरोपियों से मिलकर थाने के इंस्पेक्टर भरत कुमार गौतम ने मारपीट का मुकदमा दर्ज कर लिया। वहीं पीड़ित ने थाने जाकर थाने के गेट पर धमकी दी है कि अगर उसे न्याय नहीं मिला तो वह चुनाव वाले दिन एक तरफ वोट डाले जा रहे होंगे तो दुसरी तरफ वह थाने के गेट पर आत्महत्या कर लेगी।

Read more: यूपी चुनाव: वोटिंग करेंगे कितने राम, रावण, कुंभकर्ण, मंथरा..

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Victim of Rape threaten police to suicide in front of Thana during election for justice
Please Wait while comments are loading...