अब ट्रेन में दूसरे का सामान छूने पर लगेगा 200 वोल्ट का झटका!

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

वाराणसी। चक चिड़िया गांव के स्वामी विवेकानद इंटर कॉलेज में पढ़ने वाले 10वीं के तीन छात्रों ने ट्रेन और बसों में बढ़ती हुई चोरी की घटनाओं को रोकने और चोरों को सबक सीखाने के लिए नए तरीके का डिवाइस बनाया हैं। इस डिवाइस के बाद जैसे ही कोई चोर आपका सामान छुएगा तो उे 200 वोल्ट का बिजली का झटका लगेगा साथ ही चोर-चोर आवाज के साथ सायरन भी बजने लगेगा। इतना ही नहीं बैग में लगा जीपीएस चोर का लोकेशन भी ट्रैक करा देगा। खास बात यह है कि इस डिवाइस से बने बैग का खर्च मात्र 2500 रुपये है।

ऐसे मिला आइडिया

ऐसे मिला आइडिया

इस डिवाइस को बनाने वाले स्टूडेंट विजेन्द्र सिंह ने बताया कि इस डिवाइस को बनाने में एक महीने के लगतार कड़ी मेहनत के बाद एक सेक्युरिटी बैग तैयार किया है। इस बैग में एक अनोखे तरीके का डिवाइस लगाया गया है। कई बार टीवी अखबारों के जरिए खबर सुनने के मिलती थी कि चोर यात्रा के दौरान सामान लेकर भाग गए जिससे यात्रियों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता था। ऐसी ही घटनाओ को देखते हुए हम तीनों के मन ख्याल आया की एक ऐसा डिवाइस बनाया जाए जो सफर में लगेज की सुरक्षा के साथ ही साथ चोरों को सबक सीखा सके।

तीन स्टेप में ऐसे करेगा ये डिजिटल बैग अपना काम

तीन स्टेप में ऐसे करेगा ये डिजिटल बैग अपना काम

पहला स्टेप

इस बैग को लेकर अगर कोई चोर या बदमाश भागने का प्रयास करता है, तो बैग मालिक अपने मोबाइल से एक नंबर डायल करेगा। डायल करते ही बैग में लगा मोबाइल सर्किट एक्टिव हो जायेगा। बैग में लगे मोबाइल सर्किट में हुए वायब्रेशन से बैग में लगा गेयर पुली स्टार्ट हो जायेगा और फिर गेयर पुली के द्वारा एक बटन प्रेस होगा। बैग में लगा करंट डिवाइस एक्टिव हो जायेगा और बैग लेकर भाग रहे व्यक्ति को 150 से 200 वोल्ट का जोरदार झटका लगेगा।

दूसरा स्टेप

शिवानंद (सेक्युरिटी बैग बनाने वाले छात्र) ने बताया डिवाइस में ही लगे दूसरे सिम पर काल करते ही सर्किट का दूसर चक्र पूरा होगा ,तो उसके अंदर लगा सायरन भी सक्रीय हो जायेगा और चोर - चोर की आवाज आने लगेगी।

तीसरा स्टेप

जीपीएस एक्टिव रहेगा और जहा भी बैग रहेगा उसका लोकेसन बैग मालिक के मोबाइल पर डिस्प्ले हो जायेगा और चोर आसानी से पकड़ा जा सकेगा।

इस उपकरणों से बना सेक्युरिटी बैग

इस उपकरणों से बना सेक्युरिटी बैग

1. ऐसी सर्किट 220 वोल्ट

2 . डबल सिम स्मार्ट मोबाइल सर्किट

3 . गेयर पुली

4 . सायरन

5 . रिले

6 . जीपीएस सर्किट

7 . गेयर स्विच

8 . कॉपर वायर

पीएम मोदी के स्टार्टअप अभियान से जुड़ेंगे बच्चे

पीएम मोदी के स्टार्टअप अभियान से जुड़ेंगे बच्चे

स्कूल प्रबंधक सुजॉय ने बताया स्टूडेंटों ने कॉमन मैन के लिए बेहतरीन चीज बनायीं है। पीएम मोदी के स्टार्टअप अभियान से जोड़ते हुए इन बच्चो के प्रयास को साकार रूप देने का प्रयास करेंगे और इसके लिए बीएचयू में भी संपर्क साधेंगे। बीएचयू आईआईटी के प्रोफ़ेसर पीके मिश्रा मानते है की आज के बच्चो में एक चेंज आ रहा है। इन तीन बच्चो ने जो एक्स्पेरिमेंट किया हैं वो बहुत कारगर उपकरण है। ऐसे बैग की आज के बाजारों में जरूरत हैं और ऐसे बैग और डिवाइस लगे अटैची और ब्रीफकेस बाजार में आना चाहिए ताकि इनकी मेहनत सफल हो और चोरी की घटनाओ पर रोक लग सके।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
varanasi students made a device to prevent theft in trains and buses
Please Wait while comments are loading...