आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में गायत्री प्रजापति के खिलाफ FIR दर्ज

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। यूपी मे आचार संहिता लागू हो चुकी है लेकिन प्रदेश के मंत्री ही आचार संहिता की धज्जियां उड़ा रहे हैं। परिवहन मंत्री गायत्री प्रजापति के खिलाफ अपने चुनावी क्षेत्र अमेठी में साड़ी बाटने के आरोप में एफआईआर दर्ज कराई गई है। अमेठी में तकरीबन 42 बंडल साड़ियों का जब्त हुआ है जो लोगों के बीच बांटने के लिए ले जाया जा रहा था, उसे पुलिस ने जब्त कर लिया है। यह साड़ियां कानपुर के श्री लक्ष्मी कैरियर से लोड कराई गई थी जिसे पुलिस ने जब्त किया है।

gaytri

डीसीएम चालक अमित के अनुसार साड़िया कानपुर के श्री लक्ष्मी कैरियर कॉर्पोरेशन ने गाड़ी में लोड़ कराई थी, जिसे अमेठी में गायत्री प्रजापति के यहां काम कर रहे शैलेश मिश्रा को देना था। 42 बंडल में कुल साढ़े चार हजार साड़ियां थी। साड़ियों को फतेहपुर-रायबरेली की सीमा पर जब्त किया गया है। इसके बाद पुलिस ने इसे आचारा संहिता का उल्लंघन मानते हुए गायत्री प्रजापति के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। पुलिस ने डीसीएम ड्राइवर सहित क्लीनर व गायत्री प्रजापति के यहां काम करने वाले शैले के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज की है।

इसे भी पढ़ें- तो अखिलेश तोड़ेंगे बेड़ियां, अकेले लड़ेंगे चुनाव

डीसीएम ड्राइवर व क्लीनर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और साड़ियों के बंडल को जब्त कर लिया है। जो बिल ड्राइवर के पास से मिला है उसपर गायत्री प्रजापति का नाम लिखा है, एसपी बलिकरण सिंह यादव का कहना है कि डीसीएम में कुल 4452 साड़ियां मिली हैं और बिल पर सिर्फ गायत्री प्रजापति का नाम लिखा हुआ था। जो गाड़ी चला रहा था उसका नाम अमित शुक्ला है जबकि क्लीनर का नाम राहुल है जोकि कानपुर का ही रहने वाला है। साड़ियों के बंडल पर राधे-राधे बीजेपी एक्सक्लुसिव लिखा है।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
UP minister booked for violating model code of conduct. 4500 sarees were sent to Amethi to distribute sieged by the police near Fatehpur.
Please Wait while comments are loading...