UP Assembly elections 2017- यूपी चुनाव में जमकर गूंजेगा बहनजी को आने दो

Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। बसपा सुप्रीमो मायावती का जन्मदिन उनके समर्थक और पार्टी किसी बड़े महोत्सव की तरह मनाती है। इसके लिए बकायदा चंदा इकट्ठा किया जाता है और बड़ी धूमधाम से उनका जन्मदिन मनाया जाता है। लेकिन जिस तरह से उनके चुनाव से ठीक पहले आदर्श आचार संहिता को लागू कर दिया गया है उसने इस बार के जन्मदिन के जश्न को फीका कर दिया है। लेकिन इस बार जन्मदिन का जश्न नहीं मनाने के पीछ आचार संहिता से इतर भी कुछ वजहें है।

mayawati

इस बार मायावती के जन्मदिन के मौके पर बसपा 15 जनवरी को एक वीडियो सीरीज जारी करेगी जोकि चुनाव प्रचार के तौर पर लोगों को अपनी ओर खीचेगी। यह वीडियो गायक कैलाश खेर की आवाज में होगा जिसका शीर्षक होगा बहनजी को आने दो। यह पहली बार है जब बसपा वोटरों को लुभाने के लिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल इस बार के चुनाव में करने जा रही है। बसपा सुप्रीमो हमेशा से ही सोशल मीडिया से अपनी दूरी बनाए रखती हैं, इसकी बड़ी वजह यह माना जाता है कि उनके मतदाता अन्य मतदाताओं की तुलना में गरीब हैं और वह सोशल मीडिया तक अपनी पहुंच नहीं रखते हैं।

इसे भी पढ़ें- UP के चुनाव में मुसलमानों के सपा को वोट नहीं देने की 4 वजहें

लेकिन जिस तरह से हाल के चुनाव प्रचार में सपा और भाजपा को इसका जबरदस्त लाभ मिला है उसे देखते हुए मायावती ने भी इस बार चुनावी मैदान में सोशल मीडिया के इस्तेमाल का फैसला लिया है। हालांकि इस बात की संभावना कम है कि मायावती खुद सोशल मीडिया पर अपने पेज की शुरुआत करेंगी, लेकिन पार्टी इस बात की पूरी कोशिश कर रही है चुनावी प्रचार के लिए सोशल मीडिया के पेज की शुरुआत मायावती के जन्मदिन के मौके पर ही की जाए। सोशल मीडिया पर अपने चुनावी अभियान को चलाने के लिए पार्टी बकायदा एक टीम को तैनात करने जा रही है जो फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब जैसे चैनलों पर बहन जी को आने दो इस टैगलाइन से जमकर प्रचार करेगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
UP Assembly elections 2017: 'Behenji Ko Aane Do' will be BSP's USP. This will be first time when BSP will campaign on Social platform too in the election.
Please Wait while comments are loading...