यूपी विधानसभा चुनाव 2017: अमित शाह आज जारी करेंगे बीजेपी का घोषणा पत्र, इन मुद्दों पर रहेगा खास फोकस

बीजेपी की रणनीति पर गौर करें तो उनके चुनावी घोषणा पत्र में मुख्य फोकस प्रदेश के युवाओं, महिलाओं, किसानों के साथ-साथ गरीबों पर होगा। पार्टी का मुख्य एजेंडा विकास ही रहेगा।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। केंद्र में सत्ता संभाल रही भारतीय जनता पार्टी की नजर अब यूपी विधानसभा चुनाव पर टिक गई है। सियासी तौर पर बेहद अहम माने जाने वाले उत्तर प्रदेश में सत्ता हासिल करने के लिए पार्टी लगातार कवायद में जुटी हुई है। यही वजह है कि पार्टी उत्तर प्रदेश के वोटरों को साधने के इरादे से आज अपना घोषणा पत्र जारी करेगी। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह यूपी की जनता के सामने पार्टी का घोषणा पत्र पेश करेंगे। जिससे पार्टी की प्रदेश को लेकर क्या रणनीति होगी ये साफ हो जाएगा?

यूपी जीत के लिए बीजेपी जारी करेगी घोषणा पत्र

बीजेपी की रणनीति पर गौर करें तो उनके चुनावी घोषणा पत्र में मुख्य फोकस प्रदेश के युवाओं, महिलाओं, किसानों के साथ-साथ गरीबों पर होगा। पार्टी का मुख्य एजेंडा विकास ही रहेगा, माना जा रहा है कि इसी के इर्द-गिर्द बीजेपी अपना पूरा ध्यान केंद्रीय करेगी। बिजली, पानी से लेकर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर भी पार्टी के घोषणा पत्र में फोकस रह सकता है। बता दें कि बीजेपी का घोषणा पत्र दोपहर करीब तीन बजे पेश किया जाएगा। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह इस घोषणा पत्र को जारी करेंगे। बीजेपी के घोषणा पत्र में इन मुद्दों पर रह सकता है खास फोकस...

किसानों को लेकर हो सकते हैं बड़े ऐलान

यूपी में किसानों की स्थिति को देखते हुए बीजेपी इस वर्ग को लेकर बड़े ऐलान कर सकती है। बीजेपी के घोषणा पत्र में किसानों के लिए कर्ज माफी से लेकर किसान आयोग के गठन, सस्ती ब्याज दर पर ऋण देने जैसे ऐलान पार्टी कर सकती है। किसान आय आयोग का गठन भी पार्टी कर सकती है। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों का मुद्दा अपने चुनावी रैलियों में उठाया था ऐसे में पूरी संभावना है कि पार्टी इस वर्ग को साधने के लिए अहम ऐलान कर सकती है। पार्टी यूपी की जनता के सामने बीजेपी शासित राज्यों में किसानों की स्थिति का खाका भी पेश करेगी।

घोषणा-पत्र में युवाओं पर हो सकता है खास फोकस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने अधिकतर भाषणों में युवाओं को साधने की कोशिश करते हैं। यूपी विधानसभा चुनाव में भी युवा वोटरों की अच्छी खासी संख्या है, जिनका चुनाव में अहम योगदान होगा। ऐसे में बीजेपी के घोषणा पत्र में इस वर्ग पर खास ध्यान दिया जा सकता है। पार्टी युवाओं को फोकस करते हुए कई अहम ऐलान कर सकती है, इनमें शिक्षा, स्वास्थ्य और नौकरी जैसे मुद्दे शामिल हैं। खास तौर युवाओं की नजर नौकरी पर ही होती है। बीजेपी इस मुद्दे को घोषणा पत्र में खास वरीयता दे सकती है।

महिलाओं को लेकर बीजेपी कर सकती है बड़े ऐलान

यूपी में महिला वोटरों की संख्या काफी है, ऐसे में बीजेपी की नजर इस वोटबैंक पर भी है। माना जा रहा है कि बीजेपी महिलाओं को लेकर खास योजना की शुरु करने का ऐलान कर सकती है। महिला सुरक्षा का मुद्दा भी यूपी में बड़ा अहम है पार्टी के घोषणा पत्र में इसको लेकर भी जरुरी ऐलान हो सकते हैं। पार्टी प्रदेश की युवा छात्राओं को साधने के लिए उनके लिए भी जरूरी ऐलान कर सकती है। खुद प्रधानमंत्री मोदी महिलाओं को लेकर खास फोकस करते रहे हैं यही वजह है कि नए साल की पूर्व संध्या पर राष्ट्र के नाम संबोधन उन्होंने खास योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को 6000 रुपये देने का ऐलान किया था।

24 घंटे बिजली का मुद्दा उठा सकती है बीजेपी

बीजेपी अपने घोषणा पत्र में 24 घंटे बिजली देने का ऐलान कर सकती है। खुद प्रधानमंत्री मोदी यूपी की चुनावी रैलियों में बिजली का मुद्दा उठा चुके हैं। केंद्र सरकार की ओर से यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को इस मुद्दे पर निशाना साधा जा चुका है। ऐसे में पार्टी अपने घोषणा पत्र में बिजली का मुद्दा शामिल जरुर करेगी। पार्टी प्रदेश में बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने का ऐलान कर सकती है।

कानून व्यवस्था को लेकर बीजेपी का खास फोकस

बीजेपी के घोषणा पत्र में विकास का मुद्दा तो होगा ही साथ ही सुरक्षा और कानून-व्यवस्था का मुद्दा अहम हो सकता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी चुनावी रैली में पिछली सरकारों को इस मुद्दे को लेकर घेरा है। हमेशा से यूपी में कानून व्यवस्था मुख्य मुद्दा रहा है। ऐसे में पार्टी इस मुद्दे को अपने घोषणा पत्र में शामिल कर सकती है, जिससे यूपी की जनता को बड़ी राहत मिल सके।

गरीबों और कमजोरों पर रहेगी बीजेपी की नजर

बीजेपी के घोषणा पत्र में गरीब और कमजोर वर्ग के लिए भी अहम ऐलान हो सकता है। पार्टी की नजर इन पर भी खास है। ऐसे में पार्टी उनके लिए खास योजना शुरू करने की बात कर सकती है। पार्टी मजदूरों, श्रमिकों को लेकर भी घोषणाएं कर सकती है। उनकी मजदूरी बढ़ाने को लेकर भी बीजेपी के घोषणा पत्र में ऐलान हो सकता है।

इसे भी पढ़ें:- रिकॉर्ड मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकट देने के बाद भी बीएसपी है परेशान, जानिए वजह...

इन मुद्दों पर भी रहेगा बीजेपी का जोर

बीजेपी यूपी चुनावों को लेकर घोषणा पत्र में बुजुर्गों और मरीजों को लेकर भी अहम ऐलान कर सकती है। इसके साथ-साथ सस्ते मकान, पर्यावरण सुरक्षा, नदियों का संरक्षण का मुद्दा शामिल हो सकता है। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सस्ते मकान को लेकर खास योजना शुरू करने का ऐलान कर चुके हैं। यूपी की अवाम के लिए पार्टी अपने घोषणा पत्र में इस मुद्दे को शामिल कर सकती है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
up assembly election 2017 amit shah presents bjp election manifesto.
Please Wait while comments are loading...