गाय को बचाने के चक्कर में तीन लोगों को गंवानी पड़ी जान

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। एक तरफ जहां देशभर में गोरक्षा के लिए लोगों पर हमले की खबरें सामने आ रही हैं तो दूसरी तरफ लखनऊ में गोरक्षा में तीन युवकों की जान चली गई है। दरअसल लखनऊ में एक सड़क पर एक गांव को वहां से गुजर रही कार से बचाने के चक्कर में तीन युवकों को अपनी जान से हांथ धोना पड़ा है।

cow

सभी मरने वाले अजमेर शरीफ से लौट रहे थे

लेकिन इस घटना के पीछे जो बड़ी बात है वह यह कि जो लोग गाय को बचाते हुए मरे हैं वह सभी लोग मुसलमान हैं, उनके नाम मोहम्मद असलम, जहांगीर आलम, दिलशान खान है। दरअसल जब जब ये लोग ख्वाजा गरीबनवाज की दरगाह से लौट रहे थे तो अचानक से इनकी गाड़ी के आगे एक गाय आ गई जिसे बचाने के लिए चक्कर में जब अचानक गाड़ी को मोड़ा तो यह बड़ा हादसा हुआ। यह हादसा लखनऊ से तकरीबन 60 किलोमीटर दूर उन्नाव के पास हुआ है।

एक्सप्रेस वे पर गाय के आने से हुआ हादसा

इस दुर्घटना में तीन अन्य यात्रियों को भी गंभीर चोट आई है,जिनका कानपुर के अस्पताल में इलाज चल रहा है। जिस वक्त यह घटना इस घटना में घायल इमरान ने बताया कि जिस वक्त यह घटना हुई उस वक्त कार को इमरान चला रहा था, तभी एक्सप्रेस वे पर गाय आ गई और अचानक कार को मोड़ने की वजह से कार डिवाइडर से टकरा गई।

इसे भी पढ़ें- वैशाली में भीषण सड़क हादसा, बस-ऑटो की टक्कर में 10 की मौत

सूखे की तलाश में एक्सप्रेस वे पर आ जाते हैं जानवर

दरअसल मानसून में बारिश की वजह से गाय-भैंस सूखी जगह की तलाश में अक्सर एक्सप्रेस वे पर आ जाती हैं क्योंकि यहा पानी नहीं होता है। वहीं इस घटना के बारे में उन्नाव की एसपी नेहा पांडेय का कहना है कि गाय को बचाने के चक्कर में कार डिवाइडर से टकरा गई, इस गाड़ी में जो लोग थे वह सभी बिहार के गोपालगंज शहर के मारवाड़ी मोहल्ले के थे। कार में सवार छह लोग शनिवार को अजमेर शरीफ गए थे, वहां से लौटते वक्त ये लोग दिल्ली में एक दिन के लिए ठहरे थे ताकि अपनी कार को सही करा सके। इसके बाद यह लोग अलीगढ़ गए थे ताकि असलम के बेटे को आयशा तरीन मॉडर्न स्कूल में दाखिला करा सके।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Three men died while protecting the cow in UP. All were coming from a pilgrim.
Please Wait while comments are loading...