भाई ने बताई संदिग्ध आतंकी संदीप की हिस्ट्री, 'वकील साहब ने भेजा था कश्मीर'

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

मुजफ्फरनगर। कश्मीर में पकड़ा गया मुजफ्फरनगर का संदिग्ध आंतकवादी संदीप शर्मा के परिवार से जहां एक ओर पुलिस पूछताछ कर रही है वहीं दूसरी ओर आरोपी संदीप के भाई प्रवीण शर्मा ने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि अगर मेरे भाई ने गलत काम किया है तो सरकार उसे गोली मार दे उन्हें या उनके परिवार को कोई आपत्ति नहीं होगी।

भाई ने बताई संदिग्ध आतंकी संदीप की हिस्ट्री, 'वकील साहब ने भेजा था कश्मीर'

प्रवीण ने बताया कि मैं नहीं कह सकता कि वो यहां से जाने के बाद किन लोगों के साथ रहता था, किनके साथ उठता बैठता था, वो ढाई साल पहले मेरी बुआ के लड़के के साथ वेल्डिंग के काम की खातिर कश्मीर गया था वहां पावर ग्रिड बन रहा था जहां वो काम भी करता था। 6 महीने तक उसका फोन आया लेकिन पिछले डेढ़ साल से उससे कोई बात नहीं हुई। अगर उसका आतंकवाद से कोई संबंध है तो हम अपने देश का साथ देंगे। अगर सरकार चाहे तो उसको फांसी दे दे। हमारा परिवार उसमें कोई हस्तक्षेप नहीं करेगा।

मैंने टीवी पर देखा है कि उसने धर्म परिवर्तन कर लिया। सबसे बड़ा अपराध तो ये ही है उसको इसी बात पर फांसी होनी चाहिए। उसने हाई स्कूल के बाद पढ़ाई छोड़ दी थी उसके बाद वो नहीं पढ़ा। वो मुस्तफाबाद पचेंड़ा में जनता इंटर कॉलेज में पढ़ता था। उससे पहले उसने मालवीय विद्या मंदिर में आठवीं तक की पढ़ाई की। वो पेप्सी की एजेंसी पर ऑटो चलता था उसके बाद उसने वेल्डिंग का सीखा फिर बुआ के लड़के के साथ दिल्ली के एक ठेकेदार वकील की मदद से जम्मू गया। वो खर्चा भी नहीं देता था मैं ही अपने परिवार का खर्च चलाता हूं।

मेरे तीन बच्चे हैं, एक मां है, एक पत्नी है और किराए के माकन में रहता हूं। वो बहुत मेहनती था उसके ऊपर कोई मुकदमा नहीं है, अगर उसने काम उन लोगों के साथ मिलकर किया है तो उसे उन लोगों को पकड़वाना चाहिए जो ये काम करते हैं। वो प्रशासन का सहयोग करे और अपने साथ-साथ उन सभी गद्दारों को बी पकड़वाए। उसकी अभी शादी नहीं हुई है, ठेकेदार के बारे में मैं इतना जनता हूं की वो दिल्ली के खजूरी बाग का रहने वाला है।

मेरी बुआ का लड़का ठेकेदार को ज्यादा जनता है क्योकि वो ही उसके संपर्क में था, मेरी बुआ का लड़का मोरने गांव (मुजफ्फरनगर) का रहने वाला है। जिसका नाम सोनू शर्मा है। चार पांच महीने पहले मेरे पास कश्मीर के अनंतनाग थाने से फोन आया था कि तुम्हारा भाई किसी मुकदमे में पकड़ा गया है तो मैंने उनसे कहा कि अगर उसने गलत किया है तो उसे जेल भेज दो। अगर मेरा भाई लश्कर-ए-तोयबा के साथ है तो उसको ऑन दा स्पॉट गोली मार दो, मेरा परिवार कोई आपत्ति नहीं करेगा।

Read more: धार्मिक मेले के नाम पर बार बालाओं का अश्लील डांस, नोट उड़ाने को लेकर दो गुट भिड़े

देखिए VIDEO...

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Terror accused Sandeep Sharmas biography
Please Wait while comments are loading...