शिवपाल ने खाली किया सरकारी आवास, लिखा पत्र

Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में सत्ताधारी दल समाजवादी पार्टी में मचे घमासान के दौरान बर्खास्त कैबिनेट मंत्री और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव ने आधिकारिक रूप से सरकारी आवास खाली कर दिया है।

उन्होंने राज्य सम्पत्ति अधिकारी को पत्र भेजकर आवास खाली किया। शिवपाल ने 7 कालीदास मार्ग आवास लिखित रूप से छोड़ा।

बता दें कि 23 अक्टूबर को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने विधायकों की बैठक के दौरान शिवपाल यादव को बर्खास्त कर दिया था।

पीके से शिवपाल की गुपचुप मुलाकात, कांग्रेस के महागठबंधन में आने की अटकलें तेज

shivpal

उनके साथ साथ ओम प्रकाश, शादाब फातिमा और दर्जा प्राप्त मंत्री जयाप्रदा भी बर्खास्त की गई थीं।

ये कहा था अखिलेश ने

जानकारी के मुताबिक अखिलेश यादव ने कहा था कि जो भी अमर सिंह के साथ है उनको हटाया जाएगा। जिस व्यक्ति ने पार्टी में झगड़े पैदा किए उनको माफी नहीं दी जाएगी।

मेरे दोस्त बड़े अधिकारी हैं, उन्होंने बताया पहले भी हुई है सर्जिकल स्ट्राइक- अखिलेश यादव

वहीं अपनी बर्खास्तगी के कुछ देर बाद ही शिवपाल ने मुखातिब होते हुए कहा था कि सपा अगला विधानसभा चुनाव पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव की अगुवाई में लड़ेगी।

अगले दिन 24 अक्टूबर को हुई पार्टी के संयुक्त बैठक में भी अखिलेश और शिवपाल के बीच झड़प हुई थी।

शिवपाल ने कहा था...

जिस दौरान शिवपाल ने कहा था कि 'सीएम अलग पार्टी बनाना चाहते थे, ये बात मैं अपने बेटे की कसम खाकर कहता हूं, मैं गंगा जल हाथ में लेने को भी तैयार हूं।'

यूपी में मुलायम नहीं अखिलेश यादव हैं मुस्लिम और यादव वोट बैंक की पहली पसंद

उसी दिन समाजवादी पार्टी में घमासान मचने के बाद सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और शिवपाल यादव को अपने घर बुलाया था।

वहां पर मुलायम सिंह ने दोनों से कहा कि वे आपसी मतभेद भुला दें और पार्टी को विधानसभा चुनाव जिताने की तैयारी करें।

सर्वे रिपोर्ट: मुलायम-शिवपाल रह गए पीछे, अखिलेश यादव ने मार ली बाजी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Shivpal yadav siphon off his government's house
Please Wait while comments are loading...