शाहजहांंपुर: मां के अपराध की सजा जेल में भुगतेंगे मासूम बच्चे

Subscribe to Oneindia Hindi

शाहजहांपुर। यूपी के शाहजहांपुर में दो दिन पहले चंदन लकड़ी की तस्करी करते हुए सात महिलाओं सहित एक पुरुष तस्कर को गिरफ्तार किया था। चंदन लकड़ी की तस्करी कर रही महिलाओं की गोद में पांच बच्चे भी है इन बच्चों की उम्र डेढ़ साल से तीन के बीच की है। अब पूछताछ के बाद इन महिलाओं एक पुरूष को जेल भेज दिया है और साथ ही पांच बच्चे भी जो अपनी मां की गोद थे, उनको भी जेल जाना पड़ा। ये सभी महिलाएं मध्यप्रदेश की रहने वाली हैं। इन बच्चों को अभी अपना नाम तक नहीं पता होगा। लेकिन अब सोचना होगा कि इन बच्चों का क्या भविष्य होगा। इस मामले में पुलिस ने पांच और लोगों को गिरफ्तार किया है। सभी 13 आरोपियों को जेल भेज दिया गया है। अभी एक महिला सहित दो लोग फरार है जिनकी पुलिस तलाश कर रही है। Read Also: भाजपा ने आचार संहिता का उड़ाया मजाक, पार्टी ने मंच पर बांटे पैसे

शाहजहांंपुर: मां के अपराध की सजा जेल में भुगतेंगे मासूम बच्चे
 

दरअसल चंदन लकड़ी की तस्करी करते हुए गिरफ्तार हुईंं महिलाएं और पुरुष, सभी 13 लोग मध्यप्रदेश की रहने वाली है। शाहजहांपुर एसपी को एसटीएफ से सूचना मिली थी कुछ महिलाएं और पुरुष चंदन की तस्करी करने जा रहे हैं जिससे बाद हरकत में आए एसपी ने जिलेभर के थानों पर सूचना देकर सभी थाना अध्यक्षों को एलर्ट कर चेकिंग अभियान चलाया गया। जिसके बाद पुलिस ने जलालाबाद बस अड्डे से एक बस की छत से सात कपड़े की पोटली बरामद की।

शाहजहांंपुर: मां के अपराध की सजा जेल में भुगतेंगे मासूम बच्चे
 

उन सातों पोटली में चंदन की लकड़ी कपड़े से ढंकी हुई थी। पुलिस ने उसके बारे में पूछताछ की तो और भी चौंकाने वाला मामला सामने आया क्योंकि तस्करी करने वाले पुरुष नहीं अधिकांश महिलाएं थीं। पुलिस ने बस में से सात महिलाओं और एक पुरुष को गिरफ्तार किया था। जिनमें पांच महिलाएं विवाहिता है जबकि दो की शादी नहीं हुई है। विवाहिता महिलाओं के पास पांच बच्चे भी है। जिनकी उम्र डेढ़ साल से तीन साल के बीच की है। अब इन बच्चों को सजा अपनी मां की करनी की मिलेगी।

दरअसल इन मासूम बच्चों को अभी अपना नाम भी ठीक से पता नही होगा। और ना ही अभी ठीक से ये चल पाते होंगे। सजा इतनी बड़ी कि जेल जाने की नौबत इन बच्चों के सामने आ गई जबकि अभी इन्हें ये भी नहीं पता होगा कि जेल में लोग क्यों जाते हैं? इन बच्चों की मां ने ये भी नहीं सोचा कि उनके पकड़े जाने के बाद इन बच्चों का क्या भविष्य होगा? फिलहाल ये बच्चे भी अपनी मां की करनी की सजा जेल में जाकर भुगतेंगे।

जाने वाले सभी आरोपी मध्यप्रदेश के कटनी के रहने वाले । जिस्मानी पुत्री सर्कस, पिंदई पत्नी चमान, जरैना पत्नी एजाज, जुलसाना पत्नी जुबराज, जुलीसा पत्नी नजरे लाल, आबिमा पत्नी नहीराम, अंजरिया पत्नी टीपू, हसन पुत्र गजलाल सुजेश कंवरपाल, सुबराज, सर्जन राम सिंह और सहराज शामिल हैं। जबकि एक महिला और एक आरोपी पुरुष फरार है जिनकी पुलिस तलाश कर रही है। Read Also: बोरों में भूसे की तरह भरे मिले 5 करोड़ रुपए के कतरे हुए नोट

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Seven women and six others has been arrested for smuggling sandalwood. They have been sent to jail.
Please Wait while comments are loading...