अखिलेश के करीबियों से छीनकर शिवपाल ने कत्ल और घोटाले के दागियों को बांटे टिकट

Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव ने सीएम अखिलेश यादव और सपा महासचिव रामगोपाल वर्मा के करीबियों से टिकट छीनकर अन्य प्रत्याशियों को दे दिया है।

समाजवादी पार्टी ने सोमवार को जिन प्रत्याशियों के नामों की घोषणा की है उनमें कत्ल, छेड़छाड़ और घोटाले के दागी शामिल हैं।

READ ALSO: सपा में टिकट बंटवारे को लेकर सामने आई अखिलेश-शिवपाल की तनातनी

sp candidates

सोमवार को टिकट की घोषणा

समाजवादी पार्टी ने सोमवार को कुल 26 प्रत्याशियों के नामों की घोषणा की है। इनमें से पहले से घोषित 17 उम्मीदवारों को समाजवादी पार्टी ने बदल दिया है। इनके अलावा, 9 नए प्रत्याशियों के नामों की घोषणा की गई है।

दागियों में कौन-कौन?

समाजवादी पार्टी ने जिन क्रिमिनल बैकग्राउंड के कैंडिडेट्स के नामों की घोषणा की है उनमें मुकेश श्रीवास्तव, शाहनवाज राणा और अमनमणि त्रिपाठी शामिल हैं।

इनमें से अमनमणि पर पत्नी के कत्ल के आरोप हैं। मुकेश श्रीवास्तव एनआरएचएम घोटाला मामले में जेल जा चुके हैं और शाहनवाज राणा पर छेड़खानी के आरोप लग चुके हैं।

sp candidates

दागी नंबर 1- अमनमणि त्रिपाठी

शिवपाल यादव ने अमनमणि त्रिपाठी को उत्तर प्रदेश में नौतनवा विधानसभा सीट से टिकट दिया है।

मधुमिता शुक्ला हत्याकांड में अमनमणि के मां-बाप अमरमणि त्रिपाठी और मधुमणि जेल की सजा काट रहे हैं।

अमनमणि त्रिपाठी पर पत्नी सारा की हत्या का केस चल रहा है। सारा की मां की अपील पर मुख्यंमंत्री अखिलेश यादव ने इस हत्याकांड की जांच सीबीआई से कराने के आदेश दिए थे। सीबीआई सारा की हत्या की जांच में जुटी है और इस केस में अमनमणि नामजद अभियुक्त हैं।

अमनमणि त्रिपाठी के खिलाफ सिर्फ यही नहीं, कुछ अन्य केस भी चल रहे हैं।

दागी नंबर 2 - मुकेश श्रीवास्तव

समाजवादी पार्टी ने मुकेश श्रीवास्तव को पयागपुर विधानसभा सीट से टिकट दिया है। सपा में शामिल होने से पहले मुकेश श्रीवास्तव कांग्रेस में थे।

पयागपुर से कांग्रेस विधायक रह चुके मुकेश श्रीवास्तव सीएम अखिलेश यादव और आजम खान की उपस्थिति में समाजवादी पार्टी में शामिल हुए थे।

जब वे सपा में शामिल हुए थे तब अखिलेश यादव और आजम खान दोनों ने उनके दागी होने पर सफाई दी थी। कहा गया था कि अभी वो सिर्फ आरोपी हैं, कोई अंतिम फैसला नहीं हुआ है।

मुकेश श्रीवास्तव उत्तर प्रदेश के बहुचर्चित एनआरएचएम घोटाला मामले में आरोपी हैं और जेल जा चुके हैं। उनके खिलाफ अदालत में केस चल रहा है।

दागी नंबर 3 - शाहनवाज राणा

समाजवादी पार्टी ने मोहम्मद इलियास का टिकट काटकर शाहनवाज राणा को मीरापुर विधानसभा सीट से टिकट दिया है।

बहुजन समाज पार्टी से बिजनौर के विधायक रह चुके शाहनवाज राणा पर छेड़छाड़ के आरोप लग चुके हैं।

मामला 2011 का है। मुजफ्फरनगर बाईपास पर शाहनवाज राणा की कार में दिल्ली की युवतियों से छेड़छाड़ और दुराचार की घटना सामने आई।

इस मामले में शाहनवाज राणा के सुरक्षाकर्मियों और रिश्तेदारों की गिरफ्तारी भी हुई। बहुजन समाज पार्टी ने इसके बाद शाहनवाज राणा को पार्टी से सस्पेंड कर दिया था।

अखिलेश के करीबियों से छीने टिकट

समाजवादी पार्टी ने पहले से घोषित 17 प्रत्याशियों को हटाकर उनकी जगह नए नामों की घोषणा की है। हटाए गए नामों में से कई सीएम अखिलेश यादव और रामगोपाल यादव के करीबी हैं।

अखिलेश के करीबियों में जिनके टिकट कटे हैं उनमें से एक अतुल प्रधान हैं। सरधना विधानसभा सीट से उनको हटाकर शिवपाल के करीबी पिंटू राणा को टिकट दिया गया है।

इसी तरह, मेरठ शहर विधानसभा सीट से रफीक अंसारी का टिकट काट दिया गया है। वह रामगोपाल और अखिलेश के करीबी हैं। उनकी जगह अय्यूब अंसारी को टिकट दिया गया है।

खुर्जा सीट से सुनीता चौहान को हटाकर उनकी जगह रवींद्र वाल्मिकी को कैंडिडेट घोषित किया गया है। सुनीता चौहान रामगोपाल गुट की मानी जाती हैं।

READ ALSO: अरब की राजकुमारी ने पहले पैर चूमने को कहा, फिर दे दी मौत की सजा

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Samajwadi Party announced the name of candidates for 26 assembly seats in Uttar Pradesh. In this list, some candidates have criminal backgrounds.
Please Wait while comments are loading...