मुलायम की नसीहत के बाद भी सपा की गुण्डागर्दी जारी, विधायक ने SDO को पीटा

Written by: आर जयन
Subscribe to Oneindia Hindi

चित्रकूट। समाजवादी पार्टी (सपा) के मुखिया मुलायम सिंह यादव की तमाम नसीहतों के बाद भी सपा नेताओं की गुंडई पर विराम नहीं लग रहा है।

शुक्रवार (2 दिसबंर) को उत्तर प्रदेश स्थित चित्रकूट जिले के सदर विधायक वीर सिंह ने विद्युत विभाग के उपखंड अधिकारी (एसडीओ) की उनके कार्यालय में घुसकर कथित तौर पर जबर्दस्त पिटाई कर दी।

पुलिस ने पूरे जिले की विद्युत सप्लाई ठप कर दिए जाने के बाद विधायक के खिलाफ प्रथम सूचना दर्ज कर ली है।

राज्यसभा में आखिर किस पार्टी के लिए बोले रामगोपाल यादव

mulayam singh

निपटा रहे थे सरकारी कामकाज

जाकिर नाइक के पक्ष में दिग्गज सपा नेता ने दिया बयान

घटना के बारे में राज्य विद्युत कर्मचारी संघ के प्रदेश सचिव रामलाल पाल ने शनिवार को बताया कि 'उपखंड़ अधिकारी (एसडीओ) कर्वी आशीष कुमार धुसमैदान स्थित अपने कार्यालय में शुक्रवार को सरकारी काम-काज निपटा रहे थे।

दोपहर बाद सदर विधायक वीर सिंह और जिला शासकीय अधिवक्ता अशोक कुमार गुप्ता अपने एक दर्जन साथियों के साथ वहां पहुंचे और अन्य कर्मचारियों को बाहर निकाल कार्यालय बंद कर उनकी लात-जूतों से पिटाई शुरू कर दी। सरकारी कागज फाड़ दिए और कंप्यूटर आदि तोड़ डाले।'

आई गंभीर चोट

उन्होंने बताया कि 'मारपीट की घटना से एसडीओ को अंदरूनी गंभीर चोंटें आई हैं।'

अमर सिंह बोले- अपमान का स्तर सहनशीलता की सीमा से अधिक हो गया है

पाल ने बताया कि 'घटना से गुस्साए विद्युत कर्मचारियों ने पूरे जिले की सप्लाई ठप कर दी, तब कहीं पुलिस ने प्रथम सूचना दर्ज की है।'

उन्होंने कहा कि 'विधायक और अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी होने तक विद्युत कर्मियों का आन्दोलन जारी रहेगा।'

विधायक ने कहा- जायज काम करने से कर दिया मना

पुलिस अधीक्षक दिनेश पाल सिंह ने शनिवार को बताया कि 'एसडीओ की तहरीर पर शुक्रवार की देर रात विधायक वीर सिंह, जिला शासकीय अधिवक्ता अशोक गुप्ता, पवन व संतराम पटेल के अलावा आधा दर्जन अज्ञात लोगों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मामला दर्ज किया गया है।'

यूपी में अपराध की राजनीति रात दूनी, दिन चौगुनी बढ़ रही

उधर, सदर विधायक वीर सिंह का कहना है कि 'एसडीओ के साथ मारपीट जैसी कोई घटना नहीं हुई, वह अशोक गुप्ता के काम से विद्युत उपखंड कार्यालय गए हुए थे। लेकिन एसडीओ ने जायज काम करने से मना कर दिया, जब इसकी शिकायत मुख्यमंत्री से करने की बात कही गई तो एसडीओ ने ही खुद कागजात फाड़ दिए और कंप्यूटर आदि पटक कर तोड़ दिया।'

बहरहाल, इस घटना से आक्रोशित विद्युत कर्मचारी विधायक व अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर आन्दोलन पर उतर गए हैं।

नोटबंदी पर अपनी ही पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ अमर सिंह ने खोला मोर्चा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Samajwadi party mla allegedly beats sdo in chitrakoot
Please Wait while comments are loading...