रेप पीड़िता से दरोगा ने कहा पहले मेरी हसरत पूरी करो, तब होगी कार्रवाई

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

रामपुर। जिस पुलिस पर लोगों को सुरक्षा मुहैया कराने का जिम्मा हो और अपराधियों को पकड़ने की जिम्मेदारी हो, अगर वही पुलिस पीड़ितों का शोषण करने लग जाए तो पुलिसिया तंत्र का स्तर किस हद तक गिर गया है, इसका अंदाजा लगाया जा सकता है। रामपुर में इसी तंत्र का घिनौना सच सामने आया है, जहां जब रेप पीड़िता रामपुर में जब मामले की जांच कर रहे अधिकारी के पास पहुंची तो इस अधिकारी ने महिला के सामने अपना घिनौना चरित्र पेश किया।

इसे भी पढ़ें- पत्नी संग बनाए अंतरंग संबंधों को सोशल मीडिया पर किया वायरल

दरोगा शारीरिक संबंध बनाने को कहता था

दरोगा शारीरिक संबंध बनाने को कहता था

रामपुर में 37 वर्षीय महिला के साथ दो युवकों ने बलात्कार किया था, जिसके बाद इस मामले की जांच पुलिस को दी गई, लेकिन काफी समय बीतने के बाद भी जब आरोपियों को नहीं पकड़ा गया तो महिला पुलिस अधिकारी के पास पहुंची और उसने गुहार लगाई कि घटना के इतने दिन बीत जाने के बाद भी आरोपी आराम से घूम रहे हैं और उन्हें गिरफ्तार नहीं किया गया है, उसकी जान को खतरा है। पीड़िता ने पुलिस अधिकारी से गुहार लगाई कि आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए, लेकिन इसके जवाब में पुलिस अधिकारी ने महिला के सामने प्रस्ताव रखा कि वह उसके साथ संबंध बनाए तो वह आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करेगा।

महिला ने दरोगा का फोन किया रिकॉर्ड

महिला ने दरोगा का फोन किया रिकॉर्ड

लेकिन जब पीड़ित महिलाा ने पुलिस ने इससे इनकार किया तो इस मामले की जांच कर रहे सब इंस्पेक्टर जय प्रकाश सिंह ने मामले में क्लोजर रिपोर्ट दाखिल कर दी। इस घटना के बाद पीड़िता महिला ने फिर से पुलिस अधिकारी से गुहार लगाई कि वह इस मामले में कार्रवाई करे, लेकिन इस बार महिला ने इस पुलिस अधिकारी का फोन टेप कर लिया। जिसके बाद महिला इस रिकॉर्डिंग को लेकर एसपी के पास पुहंची, जिसके बाद एसपी ने इस जांच अधिकारी के खिलाफ जांच बैठा दी।

दरोगा के खिलाफ शुरु हुई जांच

दरोगा के खिलाफ शुरु हुई जांच

इस मामले में एएसपी सुधा सिंह ने बताया कि गंज के एसओ को इस मामले में जांच करने के लिए कहा गया है, वह एसआई के खिलाफ अपनी जांच रिपोर्ट दाखिल करेंगे। पुलि के अनुसार महिला के साथ सामूहिक बलात्कार किया गया था, जिन दो लोगों ने महिला के साथ बलात्कार किया था, वह महिला के जानने वाले थे। महिला के साथ 12 फरवरी को रेप किया गया था जब वह अपने रिश्तेदार के घर रामपुर गई थी। इन दोनों व्यक्तियों ने महिला को लिफ्ट दी थी, लेकिन बाद में इन लोगों ने महिला के साथ बंदूक की नोक पर रेप किया था, जब वह घर पर अकेली थी।

घर आने के लिए कहता था दरोगा

घर आने के लिए कहता था दरोगा

घटना के वक्त भी महिला की शिकायत को दर्ज करने से पुलिस ने इनकार कर दिया था, जिसके बाद महिला ने स्थानीय कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था, तब जाकर पुलिस ने मामला दर्ज किया था। पीड़ित महिला का कहना है कि जब भी मैं एसआई जय प्रकाश के पास आरोपियों को गिरफ्तार करने की गुहार लेकर पहुंची तो वह मेरे साथ संबंध बनाने की बात करता था, वह मुझे फोन करके अपने घर बुलाता था, लेकिन जब मैंने ऐसा करने से मना कर दिया तो उसने क्लोजर रिपोर्ट लगा दी।

महिला से करता था अश्लील बातें

महिला से करता था अश्लील बातें

यही नहीं महिला का कहना है कि पुलिस अधिकारी हमेशा उससे रेप के बारे में पूछता था कि यह कैसे हुआ, वह मुझसे आपत्तिजनक सवाल पूछता था, वह मुझे पकड़ लेता था, कहता था कि तुम पहले मेरी हसरत पूरी करो जब जाकर मुल्जिम पकड़े जाएंगे। लेकिन जब मामला बर्दाश्त से बाहर चला गया तो मैंने उसका फोन टेप करने का फैसला किया और इसकी एक कॉपी मैंने एसपी को दी है। वहीं रामपुर के सुप्रीटेंडेंट ऑफ पुलिस विपिन टाडा का कहना है कि शुरुआती जांच में यह सामने आया है कि आवाज एसआई की आवाज से नहीं मिलती है, लेकिन हम मामले की जांच कर रहे हैं।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Rape victim woman was asked to have illicit relation by police for the enquiry against culprit. Case has been filed against the SI.
Please Wait while comments are loading...