उत्तर प्रदेश पुलिस ने दर्ज नहीं की रिपोर्ट, रेप पीड़िता ने लगा ली फांसी

बांदा। उत्तर प्रदेश पुलिस का असंवेदनशील चेहरा एक बार फिर सामने आया है। चित्रकूट इलाके में रेप की रिपोर्ट दर्ज कराने गई महिला को थाने से पुलिस ने लौटा दिया जिससे दुखी होकर उसने फांसी लगाकर जान दे दी।

Read Also: दोस्तों के साथ शराब पीना पड़ा महंगा, लड़की से डेढ़ घंटे तक रेप

rape victim

चित्रकूट के पहाड़ी थाने का मामला

मामला चित्रकूट इलाके के सालिकपुर गांव का है। एक 32 साल के महिला के साथ गांव के ही एक आदमी ने रेप किया जिसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के लिए पीड़िता पहाड़ी थाने में गई।

पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज करने के बजाय पीड़िता को वापस लौटा दिया। पुलिस के बरताव से दुखी पीड़िता ने घर आकर फांसी लगाकर जान दे दी।

मौत के बाद पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

पीड़िता की खुदकुशी के बाद पहाड़ी पुलिस ने तुरंत उसके पति को थाने में बुलाया और आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।

पति का कहना है कि वह पीड़िता के साथ थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने गया था लेकिन पुलिस ने इधर-उधर की बात करके वापस लौटा दिया।

पुलिस ने की मामला दर्ज करने की पुष्टि

इलाके के एसपी केशव कुमार चौधरी ने पुष्टि की है कि आरोपी के खिलाफ रेप और खुदकुशी के लिए मजबूर करने का केस दर्ज किया गया है।

उधर पहाड़ी थाना प्रभारी का कहना है कि रेप की शिकायत मिली थी लेकिन आरोपी और पीड़ित पक्ष आपस में समझौता करने में लगे हुए थे।

Read Also: पाकिस्तान को क्यों पालता है चीन, एक और बड़ी वजह सामने आई

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
ताज़ा अपडेट के लिये डाउनलोड करें Oneindia News AppAndroid IOS

Read In English

After Uttar Pradesh Police refused to register report of a rape victim, she did suicide in her village home.
Please Wait while comments are loading...

पांच का पंच