रामगोपाल बोले अखिलेश के विरोधी मेरे विरोधी

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

फर्रुखाबादा। समाजवादी पार्टी के राज्यसभा सांसद रामगोपाल यादव ने सपा के भीतर मचे कोहराम के बीच अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि अखिलेश यादव के विरोधी मेरे विरोधी हैं। उन्होंने खुले तौर पर अखिलेश यादव का समर्थन करते हुए कहा कि उन्होंने जो लिस्ट जारी की वह सही है और मैं उसका पूरा समर्थन करता हूं। रामगोपाल ने कहा कि जो लोग चुनाव लड़ नहीं सकते हैं वह परिवार के भीतर लड़ाई लगवा रहे हैं।

ramgopal yadav

अखिलेश यादव को खुला समर्थन देते हुए रामगोपाल यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री ने जिन प्रत्याशियों के नाम की घोषणा की है मैं उनके लिए प्रचार करुंगा, उनके लिए मैं मैदान में उतरुंगा और प्रचार करुंगा। इससे पहले भी जब सपा के भीतर कोहराम मचा था तो रामगोपाल यादव ने अखिलेश यादव का समर्थन किया था, उन्होंने शिवपाल यादव और मुलायम सिंह यादव पर कई हमले बोले थे।

इसे भी पढ़े- समाजावादी पार्टी में अखिलेश और शिवपाल की रार पर मुस्लिमों ने कहा- वोट पर पड़ेगा असर

रामगोपाल ने कहा कि पार्टी में अब समझौते की संभावना रह गई है, उन्होंने कहा कि मुलायम ने 1 जनवरी को बैठक के लिए बुलाया था लेकिन शिवपाल ने 29 दिसंबर को ही पार्टी के उम्मीदवारों की लिस्ट को जारी कर दिया। एक व्यक्ति के कहने पर नेताजी ने अखिलेश यादव को पद से हटा दिया गया और विवाद की सबसे बड़ी वजह यही है। शिवपाल का नाम लिए बिना उन्होंने कहा कि वह नेता पार्टी के बाहर का नहीं है, उसकी इतनी हैसियत भी नहीं है कि वह चुनाव में किसी से 10 वोट भी डलवा ले।

चाचा-भतीजे के बीच मचे घमासान के बीच रामगोपाल यादव को समाजवादी पार्टी से बाहर का भी रास्ता दिखा दिया गया था। उनपर पार्टी विरोधी गतिविधि का आरोप लगाते हुए पार्टी से निष्कासित किया गया था। शिवपाल यादव ने प्रेस कांफ्रेंस करके कहा था कि रामगोपाल यादव भाजपा के साथ मिलकर षड़यंत्र कर रहे हैं और पार्टी विरोधी गतिविधि में लिप्त है। यही नहीं मुलायम सिंह ने उनपर किसी भी तरह की टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है। हालांकि कुछ दिनों बाद उन्हें फिर से पार्टी में वापस ले लिया गया था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Ramgopal Yadav gives his support to Akhilesh Yadav amidst family feud. He justifies the CM list, proposes to campaign for them.
Please Wait while comments are loading...