केशव प्रसाद के CM रेस से बाहर होने के बाद सस्पेंस और बढ़ा

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में भारी जीत के बाद भाजपा में मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार की तलाश हो रही है, लेकिन इस तलाश तब बड़ा मोड़ आ गया जब प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या ने खुद के इस रेस से बाहर होनी की बात मीडिया के सामने कही, वहीं अमित शाह ने भी इस बात पर बड़ा बयान देकर यूपी के सीएम उम्मीदवार पर सस्पेंस बढ़ा दिया है। अमित शाह ने कहा कि मैंने यूपी के मुख्यमंत्री के चयन का अधिकार केशव प्रसाद मौर्या पर छोड़ दिया है।

केशव प्रसाद मौर्या रेस से बाहर

केशव प्रसाद मौर्या रेस से बाहर

भाजपा की जीत के बाद माना जा रहा था कि केशव प्राद मौर्या मुख्यमंत्री पद के अहम दावेदार हैं, मौर्या को यूपी में भाजपा की जीत के पीछे एक अहम किरदार माना जा रहा था, उन्होंने प्रदेश में गैर यादव और ओबीसी वोटरों को साधने में अहम भूमिका निभाई थी। यहां गौर करने वाली बात है कि केशव प्रसाद मौर्या की अचानक से तबियत खराब होने की वजह से अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्हें हाई ब्लड प्रेशर, बुखार के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

शनिवार को होगी विधायकों की बैठक

शनिवार को होगी विधायकों की बैठक

यूपी में मुख्यमंत्री पद को लेकर चल रहा सस्पेंस शनिवार को लखनऊ में होने वाली विधायकों की बैठक में खत्म हो सकता है। इस बैठक में प्रदेश के मुख्यमंत्री उम्मीदवार की घोषणा की जा सकती है, बैठक में सभी विधायक अपने नेता का चयन करेंगे। वहीं इस काम के लिए पार्टी की ओर से केंद्रीय पर्यवेक्ष की नियुक्ति की गई है जिसमें पार्टी के महासचिव भूपेंद्र यादव और केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू शामिल हैं। ये दोनों ही नेता विधायकों की बैठक के दौरान मौजूद रहेंगे।

मनोज सिन्हा और योगी आदित्यनाथ सबसे आगे

मनोज सिन्हा और योगी आदित्यनाथ सबसे आगे

लेकिन जिस तरह से केशव प्रसाद मौर्या ने खुद को मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार की रेस से बाहर कर लिया है उसके बाद माना जा रहा है कि मनोज सिन्हा और योगी आदित्यनाथ इस रेस में सबसे आगे हो गए हैं। हालांकि अभी तक इस बात पर पार्टी ने इनकार नहीं किया है कि राजनाथ सिंह प्रदेश के मुख्यमंत्री की रेस में नहीं हैं, ऐसे में शनिवार को होने वाली विधायकों की बैठक में इस बात पर सबकी नजर रहेगी की मुख्यमंत्री की जिम्मेदारी किसे मिलती है।

उत्तराखंड में आज होगा फैसला

उत्तराखंड में आज होगा फैसला

उत्तर प्रदेश के अलावा पार्टी ने उत्तराखंड में मुख्यमंत्री का नाम अभी घोषित होना बाकी है, उत्तराखंड में त्रिवेंद्र सिंह रावत और प्रकाश पंत के बीच रेस चल रही है वहीं कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए सतपाल महाराज भी इस रेस में बने हुए हैं और वह एक मजबूत दावेदार के तौर पर देखे जा रहे हैं। लेकिन कांग्रेस से भाजपा में आने के चलते उनके लिए मुश्किल है। उत्तराखंड में भाजपा विधायक आज बैठक करेंगे और इस दौरान केंद्र की ओर से नरेंद्र तोमर और सरोज पांडेय बतौर पर्यवेक्षक मौजूद रहेंगे

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Race for UP chief minister candidate still continues. Keshav Prasad Maurya rules out any speculation of his nomination.
Please Wait while comments are loading...