बोलीं मायावती- मोदी के भाषण का पूर्वांचल की जनता पर नहीं पड़ेगा असर

Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो और राज्य सभा सांसद मायावती ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण से पूर्वांचल की जनता प्रभावित नहीं होगी।

बता दें कि उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मायावती का बयान पीएम मोदी की कुशीनगर में हुई उस रैली के बाद आया है जिसमें उन्होंने प्रदेश सरकार पर तो हमला किया ही था साथ ही नोटबंदी को लेकर विपक्ष पर भी कटाक्ष किया।

mayawati

मायावती ने आगे कहा कि विपक्ष इस देश की 90 फीसदी जनता का दर्द महसूस कर रही है,इसलिए हम विरोध कर रहे हैं। हम कालेधन के खत्म हो जाने का विरोध नहीं कर रहे हैं।

परिवर्तन रैली में कहा था...

पीएम ने प्रदेश स्थित कुशीनगर में भाजपा की परिवर्तन रैली में कहा था कि मैं उत्तर प्रदेश सरकार को यह बताना चाहता हूं कि अगर वो राज्य के किसानों की चिंताओं के बारे में चिंतित होते तो वो प्रधानमंत्री बीमा फसल योजना लागू करते।

जाकिर नाइक के पक्ष में दिग्गज सपा नेता ने दिया बयान

उन्होंने कहा कि दिल्ली में बैठी सरकार दलित,पीड़ित, शोषित, गरीबों, किसानों और गांव के लोगों के लिए समर्पित है। पीएम ने कहा कि यहां के गन्ने के किसानों ने कैसी-कैसी समस्याओं का सामना किया ये कौन नहीं जानता?

पीएम ने कहा कि अब वो जमाना गया जब सरकार में बैठे लोग ये मानते थे कि वो तो देने वाले हैं लेकिन हम तो सेवक हैं। आपका कष्ट हमारा कष्ट है। आपकी सेवा करना हमारी जिम्मेदारी है।

पीएम ने कहा कि आपने मुझे इतना दिया है कि मैं तो यहां चुकाने आया हूं।

नोटबंदी के खिलाफ विपक्ष के भारत बंद पर पीएम ने कहा- हम भ्रष्टाचार बंद कर रहे हैं, वो भारत बंद

सरकार आई तो 22,000 करोड़ रुपए

पीएम ने कहा कि जब हमारी सरकार आई तो गन्ना किसानों के 22,000 करोड़ रुपए बाकी थे। हमने कोशिश की कि किसानों को उनका पैसा समय पर दे दिया जाए। हमने बहुत हद तक बकाये की राशि खत्म कर दी है।

पीएम ने कहा कि गन्ने के किसान को मरने नहीं दिया, ये काम हमने कर के दिखाया। कहा कि गन्ने कि किसानों के बकाया 20,000 करोड़ में केंद्र ने ज्यादातर चुका दिया है।अब सिर्फ कुछ ही पैसे बचे हैं।

बाकी सारी पैसे किसान के घर तक पहुंच गए। पीएम ने कहा कि हमने गन्ना किसानों को मरने नहीं दिया। ये हमने कर दिखाया। कहा कि हमने चीनी मिलों से कहा कि वो एथनॉल पैदा करें। अगर चीनी की कीमते कम हो जाएं तो एथनॉल बनाइए लेकिन किसान को मरने नहीं दिया जाएगा।

मन की बात में इस चाय पानी वाली शादी की बात पीएम ने बताई, आप भी जानें

नोटबंदी पर पीएम ने कहा था कि...

नोट बंदी पर पीएम ने कहा था कि बीते दिनों हमने 500 और 1,000 के नोट बंद कर भ्रष्टाचार के खिलाफ निर्णय लिया।

पीएम ने वहां मौजूद लोगों से पूछा कि देश को भ्रष्टाचार, कालेधन से मुक्त कराना चाहिए या नहीं? पीएम ने कहा कि आज मैं देश का आभार व्यक्त करने आया हूं।

पीएम मोदी ने कहा कि हक का पैसा सबको मिलना चाहिए लेकिन लूट का नहीं। मैंने देश से 50 दिन मांगे हैं। कहा कि जो बड़े-बड़े हैं उनको बड़ी तकलीफ होगी, छोटे-छोटे लोगों को छोटी तकलीफ तो होगी ही।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Purvanchal people are not going to get influenced by PM's address :BSP Chief Mayawati
Please Wait while comments are loading...