पीएम मोदी ने बताया, गरीबों के खातों में वो कैसे लाने वाले हैं पैसा

पीएम मोदी ने मुरादाबाद में रैली को संबोधित करते हुए कहा कि काले धन को खपाने के लिए जो पैसा गरीब के खाते में डाला जा रहा है वह गरीब का हो जाएगा। ये कैसे हो इस पर विचार किया जा रहा है।

Subscribe to Oneindia Hindi

मुरादाबाद। देश में 8 नवंबर, 2016 को पीएम नरेंद्र मोदी के विमुद्रीकरण की घोषणा के बाद से ही कालाधन खपाने वाले लोगों ने जन धन खातों का प्रयोग करना शुरु कर दिया है।

narendra modi

 

मोदी ने दिया यूनिक आईडिया

ऐसे में उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुरादाबाद में परिवर्तन रैली के दौरान नोटबंदी के बाद जनधन खातों में जमा हो रहे रुपयों पर बड़ा बयान दे दिया है।

पीएम मोदी ने मुरादाबाद में रैली को संबोधित करते हुए कहा कि काले धन को खपाने के लिए जो पैसा गरीब के खाते में डाला जा रहा है वह गरीब का हो जाएगा। ये कैसे हो इस पर विचार किया जा रहा है।

पीएम मोदी ने कहा कि मैं कोशिश कर रहा हूं जिन्होंने गरीब के जन धन बैंक खाते में गैर कानूनी तौर से रुपया जमा कराया है वो लोग जेल जाएं और वो रुपया गरीब के खाते में ही रह जाए।

उन्होंने कहा कि गरीब लोगों के जन धन खातों में जो बेईमान लोग उसमें पैसा डाल रहे हैं। ऐसे लोगों को सजा होगी। पीएम मोदी ने कहा कि जिन भी गरीबों के जनधन खातों में पैसे आ गए हैं वे उनमें से निकाले नहीं। वो पैसा खुद-ब-खुद उनका हो जाएगा।

केजरीवाल का पीएम मोदी पर हमला, बोले-जनता आपसे लाइन में बिताए एक-एक मिनट का बदला लेगी

16 नवंबर तक जन धन खातों में अब तक 64,252.15 करोड़ रुपए जमा

आपको बताते चलें कि नोटबंदी के बाद 16 नवंबर तक जन धन खातों में अब तक 64,252.15 करोड़ रुपए जमा किए जा चुके थे। इसमें सबसे ज्यादा धनराशि 10,670.62 करोड़ रुपए उत्तर प्रदेश में जमा हुए थे। वहीं यूपी के बाद पश्चिम बंगाल और राजस्थान का नंबर था। इस बात की जानकारी केंद्र सरकार में केंद्रीय व‍ित्‍त राज्‍य मंत्री संतोष कुमार गंगववार ने लोकसभा में 25 नवंबर को दी थी।

गंगवार ने कहा था कि उत्तर प्रदेश के 3.79 करोड़ खातों में से 10,670 .62 करोड़ रुपए जमा कराए गए हैं। इसके बाद पश्चिम बंगाल के 2.44 करोड़ जन धन खातों में 7,826.4 करोड़ रुपए और राजस्थान के 1.89 करोड़ खातों में 5,345.57 करोड़ रुपए जमा कराए गए। इन तीन राज्यों के बाद बिहार का नंबर आता है जहां के 2.62 करोड़ जन धन खातों में 4,912.79 रुपए जमा कराए गए।

बोलीं माया- विमुद्रीकरण के खिलाफ BSP करेगी देशव्यापी आंदोलन

5.98 करोड़ खाते जीरो बैलेन्स एकाउंट वाले

गंगवार ने कहा कि कुल 25.58 करोड़ जन धन खातों में से, 5.98 करोड़ खाते (23.02 प्रतिशत) जीरो बैलेन्स एकाउंट हैं।

एक अन्य सवाल के जवाब में केंद्रीय वित राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि 11 नवंबर तक देश में 17.87 करोड़ रुपए सर्कुलेशन में थे। भारतीय रिजर्व बैंक के प्रेस 2015-16 के दौरान 2,119.5 करोड़ बैंक नोट छाप चुके हैं। जबकि पिछले वित्तीय वर्ष में 2,365.2 करोड़ बैंक नोट छापे गए थे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
pm narendra modi told how will money come in jan dhan account of poor people
Please Wait while comments are loading...