पंचायत का ये कैसा फैसला, रेपिस्टों का रचाने बैठ गए स्वयंवर?

युवती को एक युवक को पसंद करना था। युवती ने एक युवक की ओर अपने हाथ से इशारा किया लेकिन इस युवक ने युवती से शादी करने से मना कर दिया।

Subscribe to Oneindia Hindi

सहारनपुर। कक्षा बारहवीं में पढ़ने वाली एक युवती के साथ गांव के ही रहने वाले तीन युवकों ने गैंगरेप किया, जिसके बाद युवती ने ऐसा कदम उठा लिया जिसने सभी को हैरत में डाल दिया। युवती से रेप के बाद गांव में एक पंचायत हुई थी। पंचायत में फैसला सुनाया गया था कि युवती गैंगरेप के आरोपी तीनों युवकों में से किसी एक युवक से शादी कर सकती है। युवती ने जिस युवक की तरफ शादी करने के लिए अंगुली उठाई तो उस युवक ने मना करा दिया। जिस पर युवती ने सल्फास की गोली खाकर जान दे दी।

Read more: शाम ढलते ही नीली बत्ती लगाकर करते थे वसूली, फिल्म देखकर आया था आइडिया

पंचायत का ये कैसा फैसला, रेपिस्टों का रचाने बैठ गए स्वयंवर?

कोतवाली गंगोह क्षेत्र के गांव खालिदपुर में 19 वर्षीय मोनी कस्बे के एक इंटर कालेज में पढ़ती थी। दो दिन पहले इस युवती को गांव के ही रहने वाले तीन युवकों ने अगवा कर लिया और खेत में ले जाकर जबरन गैंगरेप किया। देर रात तक भी जब युवती अपने घर नहीं पहुंची तो परिजनों ने तलाश की। काफी तलाश के बाद युवती गांव के जंगल में बेसुध हालत में पड़ी मिली। परिजन किसी तरह से युवती को लेकर घर लाए। होश में आने पर युवती ने गांव के ही तीन युवकों का नाम उजागर करते हुए बताया कि तीनों युवकों ने उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया है। इसके बाद ये मामला गांव में चर्चा का विषय बन गया।

पंचायत का ये कैसा फैसला, रेपिस्टों का रचाने बैठ गए स्वयंवर?

देर रात इस मामले को लेकर युवती के परिजनों ने जब पुलिस में जाने की बात कही तो ग्रामीणों ने मामला निपटाने के लिए गांव में एक पंचायत बुलाई। देर रात तक चली पंचायत ने फैसला सुनाया कि युवती आरोपी तीनों युवकों में से किसी एक युवक से शादी कर ले। पंचायत के इस फैसले पर युवती और उसके परिजन सहमत हो गए तो पंचायत में तीनों युवकों को खड़ा किया गया, जिनमें से युवती को एक युवक को पसंद करना था। युवती ने एक युवक की ओर अपने हाथ से इशारा किया लेकिन इस युवक ने युवती से शादी करने से मना कर दिया।

इसके बाद शनिवार की सुबह युवती ने अपने घर में रखे कीटनाशक सल्फास की गोली खा ली। सल्फास से युवती की हालत बिगड़ गई। परिजन उसे किसी तरह से जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने युवती को मृत घोषित कर दिया। मामले की जानकारी पाकर पुलिस और अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और मामले की जानकारी हासिल की। एसपी देहात रफीक अहमद का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है और आरोपी युवकों के खिलाफ मामला दर्ज कर जेल भेजा जाएगा।

Read more: शाहजहांपुर: पुलिस अधिकारी की गाड़ी ने ली बच्चे की जान, गया था टॉफी लेने घर पहुंचा शव

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Panchayat nonsense decision set marriage praposal to rapist in Saharanpur victim suicide
Please Wait while comments are loading...