यूपी चुनाव में उतरकर क्या चाहते हैं राजपाल यादव, पढ़िए उनसे खास बातचीत

सर्व समभाव के राष्ट्रीय प्रचारक और बॉलीवुड हास्य अभिनेता राजपाल यादव ने सपा-कांग्रेस के गठबंधन पर जोरदार हमला किया। राजपाल यादव ने कहा कि इस गठबंधन में सिर्फ गांठे ही गांठे दिख रही हैं।

Subscribe to Oneindia Hindi

शाहजहांपुर। सपा-कांग्रेस में गठबंधन होने के बाद प्रदेश की सियासत भी गर्मा गई है। तो वहीं सर्व समभाव के राष्ट्रीय प्रचारक और बॉलीवुड हास्य अभिनेता राजपाल यादव ने भी अपनी चुप्पी तोड़ते हुए सपा-कांग्रेस के गठबंधन पर जोरदार हमला किया। खास बातचीत में राजपाल यादव ने कहा कि इस गठबंधन में सिर्फ गांठे ही गांठे दिख रही हैं। इन लोगों ने राजनीति को व्यापार का अड्डा बना लिया है। इससे बड़ा दुर्भाग्य और क्या हो सकता है कि जो सरकार सत्ता में हो उसे गठबंधन की जरूरत पड़ रही है। प्रदेश में बंधन युक्त और बंधन मुक्त की राजनीति होनी चाहिए। सपा, बसपा या कांग्रेस इनको अब खून की राजनीति नहीं करने देंगे। उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश नहीं अब सर्वोत्तम प्रदेश बनाना है। साथ ही राजपाल यादव ने कहा कि उनको सीटें मिलती हैं और अगर बहुमत के करीब सरकार को समर्थन देने की बात आती है तो वो समर्थन तब देंगे जब पार्टी उनके एजेंडे को ध्यान में रखेगी। वरना वह किसी को समर्थन नहीं देंगे।

read more:यूपी चुनाव: सपा-कांग्रेस गठबंधन से बाहर होने के बाद अजित सिंह बना रहे ये खास प्लान

'पार्टी छोड़कर बाकी नेता करें फिल्मों में काम'

'पार्टी छोड़कर बाकी नेता करें फिल्मों में काम'

राजपाल यादव ने बताया कि वह पिछले दो महिने से प्रदेश में घूम रहे हैं। लेकिन बाकी लोग तो पुराने हैं। इन लोगों ने राजनीति को अड्डा बना लिया है। ये सभी पार्टियां मशीनरी युग में जनता को अभी भी मूर्ख समझते हैं, ये समझते हैं कि जनता कुछ जानती नहीं है। इस गठबंधन का कोई मतलब नहीं है। मैं इस गठबंधन को सिरे से नकारता हूं। राजपाल यादव का कहना है कि ये सभी राजनीत छोड़कर फिल्मों में काम करें।

'उत्तम नहीं सर्वोत्तम प्रदेश बनाने का है एजेंडा'

'उत्तम नहीं सर्वोत्तम प्रदेश बनाने का है एजेंडा'

राजपाल यादव का कहना है कि उनका एजेंडा प्रदेश के निर्माण का एजेंडा है। उत्तर प्रदेश को सर्वोत्तम प्रदेश बनाने का एजेंडा है। इस नव निर्माण युग में एजेंडे के साथ जो होगा उसके साथ राजपाल यादव होंगे। उनका कहना है कि पुरानी राजनीति को अब ध्वस्त होना है। अब न इनकी सरकार होगी न उनकी सरकार होगी उत्तर प्रदेश में अब हम सबकी सरकार होगी। अब खेल की राजनीति नहीं होने देंगे। उत्तर प्रदेश में अब राजनीति को नीति राज में बदलने की राजनीति होगी।

'गांव को पहले बनाऊंगा स्मार्ट'

'गांव को पहले बनाऊंगा स्मार्ट'

राजपाल यादव ने अपने राजनीतिक पारी की शुरुआत इस ऐलान से किया कि उनकी पार्टी गांव को स्मार्ट बनाने का प्रयास करेगी। यूपी सरकार पर निशाना साधते हुए राजपाल यादव ने कहा कि जिसे देखो शहर को स्मार्ट बना रहा है लेकिन बड़ी गाड़ियां गांव में ही चलती हैं। ऐसे में जरूरत यह है कि पहले गांव को स्मार्ट बनाया जाए। राजपाल यादव ने कहा कि अब उत्तर प्रदेश में पार्टी की सरकार नहीं जनता की सरकार बनेगी। राजपाल यादव ने यह भी कहा कि यह दुर्भाग्य की बात है कि सरकार को गठबंधन की जरूरत पड़ती है। इसका मतलब है कि प्रदेश में काम नहीं हुआ है इसलिए गठबंधन की जरूरत पड़ रही है।

read more:बरेली: पीस पार्टी की कैंडिडेट राबिया के आने से कैंट में मुकाबला हुआ दिलचस्प

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
newly formed party of Rajpal Yadavs political agenda
Please Wait while comments are loading...