परिवार के विवाद पर बचकर समय निकाल रहे हैं अखिलेश यादव

Subscribe to Oneindia Hindi

एटा। उत्तर प्रदेश चुनाव के ऐलान होने में कुछ ही दिन का समय शेष बचा है और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव किसी भी तरह के विवाद को लोगों के सामने नहीं लाने देना चाहते हैं। इसके लिए वह काफी एहतियात भी बरत रहे हैं। एटा में 51000 करोड़ रुपए की विद्युत परियोजना के उद्घाटन के मौके पर बोलते हुए उन्होंने सपा की गुटबाजी पर कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि जैसा चल रहा है चलने दो, भूकंप मत लाओ।

akhilesh yadav

इसे भी पढ़े- उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले अखिलेश यादव का तोहफा

केंद्र ने लोगों को बेवकूफ बनाया
एटा में जिस विद्युत परियोजना का मुख्यमंत्री ने शिलान्यास किया है उसका लाभ आस पास के इलाकों को काफी लाभ होगा, इसके अलावा उन्होंने कासगंज, मथुरा, मैनपुरी, कन्नौज की भी कई विकास योजनाओं का भी लोकार्पण किया। इस मौके पर अखिलेश ने केंद्र सरकार पर भी जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि कैशलेस इकोनॉमी के नाम पर जनता को बेवकूफ बनाया जा रहा है। ये लोग कहते थे कि अच्छे दिन आएंगे लेकिन इन्होंने देश को नोटबंदी में उलझाकर रख दिया है।

इसे भी पढ़े- आजम खान ने जनता को बताया ऐहसान फरामोश

समाजवादियों ने किया सबसे अधिक विकास
अखिलेश यादव ने कहा कि नोटबंदी के फैसले से गरीब किसानों व मजदूरों का नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि समाजवादियों ने लोगों को स्मार्टफोन देने का वायदा किया है और अभी तक 1 करोड़ से अधिक लोग इसके लिए रजिस्ट्रेशन भी करा चुके हैं, हमने पूर्वांचल को 31 हजार करोड़ रुपए की लागत की सड़क की सौगात दी है। इसके अलावा डायल 100 के माध्यम से हर वर्ग के लोगों की मदद की शुरुआत की है, आने वाले समय में हम जानवरो के इलाज के लिए भी हेल्पलाइन शुरु करेंगे। अब पुलिस महज 20 मिनट के भीतर लोगों के पास पहुंचती है। उन्होंने कहा कि समाजवादियों के विकास की कोई तुलना नहीं कर सकता है। हमने विकास किया है और उनके पास गिनाने के लिए कोई काम नहीं है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
On family dispute Akhilesh Yadav says dont bring tremor. He says let it go the way it is going on.
Please Wait while comments are loading...