ये क्या बोल गए मुलायम, बेटा सही हो गया और पार्टी वाले गलत...

मीडिया के सामने पिता मुलायम ने कहा कि अखिलेश तो उनका बेटा है, उससे उन्हें कोई दिक्कत नहीं, गलती या खामियां उसमें नहीं है बल्कि समस्या तो सपा पार्टी के अंदर है।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। सपा दंगल अब शायद खत्म होने की कगार पर है क्योंकि जिस तरह से पिता मुलायम ने सोमवार को मीडिया में बयान दिया उससे तो यही लग रहा है कि मुलायम ने बेटे के आगे हथियार डाल दिए हैं।

तो मुलायम नहीं पीएम नरेन्द्र मोदी से प्रभावित हैं अखिलेश, इसलिए चला ये दांव

गौरतलब है कि सोमवार को मीडिया के सामने पिता मुलायम ने कहा कि अखिलेश तो उनका बेटा है, उससे उन्हें कोई दिक्कत नहीं, गलती या खामियां उसमें नहीं है बल्कि समस्या तो सपा पार्टी के अंदर बैठे कुछ लोगों में है, जिनका समाधान जल्दी ही निकलेगा। उनके और बेटे के बीच में कोई मतभेद नहीं है, वो खुद सपा के सुप्रीमो हैं और भाई शिवपाल प्रदेश अध्यक्ष। अगर चुनाव बाद प्रदेश में सपा सरकार बनती है तो अखिलेश ही सीएम होंगे।

सपा दंगल के पीछे रामगोपाल यादव का दिमाग!

मालूम हो कि निर्वाचन आयोग द्वारा सपा के चुनाव चिह्न् साइकिल को लेकर 'दावों' पर जल्द फैसला लेने की बात कहने के बाद मुलायम की यह टिप्पणी सामने आई है। मुलायम का इशारा अपने अपने चचेरे भाई राज्यसभा सदस्य रामगोपाल यादव की ओर था, जिसे कि वो पार्टी से 6 साल के लिए निकाल चुके हैं।

अखिलेश से मतभेद नहीं, समस्या तो सपा में है

मुलायम ने ये भी दावा किया कि पार्टी में जो भी थोड़ा बहुत विवाद है, उसे वो लखनऊ पहुंचते ही सुलझा लेंगे। मुलायम सिंह ने राज्यसभा के सभापति को पत्र लिखकर राज्यसभा सदस्य रामगोपाल यादव को सपा से निष्कासित किए जाने की सूचना दी है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Amid the ongoing power tussle in the ruling family of Uttar Pradesh, Samajawdi Party supremo Mulayam Singh Yadav on Monday asserted that there was no dispute with son Akhilesh.
Please Wait while comments are loading...