रामगोपाल अलग पार्टी और चुनाव चिन्ह चाहते हैं- मुलायम सिंह यादव

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के भीतर मचे घमासान पर एक बार फिर से मुलायम सिंह ने कई बातें साफ की, उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी के भीतर ना कोई बाधा डाल पाया था और ना ही डाल पाएगा, पार्टी की एकता के लिए पूरा समय दिया, मेरे पास जो कुछ था वह पूरा का पूरा दे दिया, और अब मेरे पास क्या बचा है। पार्टी कार्यकर्ताओं की चिंता के बारे में मुलायम ने कहा कि मैं आपकी चिंता को समझ सकता हूं, यह जायज है, पार्टी काफी संघर्ष के बाद बनी है, हम इसे टूटने नहीं देंगे।

mulayam singh

मुलायम सिंह ने पार्टी के भीतर मुश्किल के लिए भारतीय जनता पार्टी को भी आड़े हाथों लिया, उन्होंने कहा कि कुछ लोग हैं जो पार्टी को तोड़ना चाहते हैं, लेकिन पार्टी के भीतर कोई भी बाधा नहीं डाल पाएगा। उन्होने कहा कि कुछ लोग साजिश कर रहे हैं, वह नहीं चाहते हैं कि पार्टी टूटे, या सिंबल छिने। मुलायम ने कहा कि ना हम अलग पार्टी बना रहे हैं, ना सिंबल बदल रहे हैं, वो दूसरी पार्टी बना रहे हैं। मुलायम सिंह ने इशारों ही इशारों में रामगोपाल यादव पर हमला बोलते हुए कहा कि हम पार्टी को नहीं तोड़ रहे हैं जबकि वो लोग अलग पार्टी बना रहे हैं।

मुलायम सिंह ने कहा कि हम पार्टी नहीं तोड़ना चाहते हैं, जबकि वह दूसरी पार्टी बनाना चाहते हैं, उन्होंने अखिल भारतीय समाजवादी पार्टी के नाम से पार्टी बनाना चाहते हैं और वह अपना चुनाव चिन्ह मोटरसाइकिल चाहते हैं। लखनऊ में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मुलायम काफी भावुक दिखे, इस दौरान वह पूरी कोशिश करते दिखे कि वह पार्टी के भीतर किसी भी तरह की टूट के लिए वह जिम्मेदार नहीं हैं।

इस दौरान रामगोपाल यादव पर पूरी तरह से हमलावर दिखे मुलायम ने कहा कि वह तीन बार भाजपा के नेताओं से मिल चुके हैं और मुझे यह पता है, हम पार्टी को बचाना चाहते हैं। मैंने उनको कहा था कि विवाद को मत बढ़ाओ, हम एकता चाहते हैं। लेकिन वह तीन बार भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष से मिले। मुलायम ने कहा कि बेटे और बहू के दम पर वह पार्टी को तोड़ना चाहते हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Mulayam Singh Yadav makes emotional speech says I dont want to break the party. He says Ramgopal want to break the party and want another symbol.
Please Wait while comments are loading...