घर पहुंचा गाजीपुर के लाल का पार्थिव शरीर, हर ओर मची चीख पुकार

Subscribe to Oneindia Hindi

गाजीपुरजम्मू और कश्मीर के मछिल सेक्टर में शहीद हुए उत्तर प्रदेश स्थित गाजीपुर के मनोज कुमार कुशवाहा का पार्थिव शरीर उनके घर बृहस्पतिवार शाम पहुंचा।

इस दौरान वहां मौजूद लोगों ने भारत माता की जय के नारे लगाए। बीते दिनों आतंकियों के साथ मुठभेड़ में तीन जवान शहीद हो गए थे। जिसमें मनोज भी शामिल थे।

मनोज के परिवार को जब शहादत की खबर मिली तभी से कोहराम मचा हुआ है।

पाकिस्तान के वायुसेना प्रमुख की भारत को धमकी, कहा- हम जानते हैं उनसे कैसे निपटना है

indian army

पत्नी है बेसुध

पूरा परिवार रो रहा है। उनकी पत्नी बेसुध है और बच्चे परिजनों से पूछ रहे हैं कि क्या हुआ? उनके परिजनों ने बताया कि मंगलवार की सुबह मनोज ने मां से बात की थी और कहा अगले महीने लंबी छुट्टी पर आने का वादा किया था लेकिन बेटे के आने से पहले उसके शहादत की खबर मिली।

भाई की शहादत की खबर सुनकर बहन का भी रोकर बुरा हाल है। बता दें कि मनोज की उम्र 31 वर्ष थी।

हेमराज का सिर काटे जाने और पाक के नए आर्मी चीफ का क्या है कनेक्शन

गौरतलब है कि सितंबर महीने में जम्मू और कश्मीर स्थित उरी में भारतीय सेना के बेस कैंप पर हुए हमले के बाद से ही सीमा के हालात खराब है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Mortal remains of Gnr Manoj K Kushwaha, who get martyr in action on LoC in Machhal sector (JK)
Please Wait while comments are loading...