पाक गोलाबारी में शहीद सुधीश का परिवार क्यों बैठा भूख हड़ताल पर?

Subscribe to Oneindia Hindi

संभल पाकिस्तानी सेना की तरफ से हुई गोलीबारी में शहीद हुए सेना के जवान के घर आकर परिवार से नेताओं ने तमाम वादे किये लेकिन नेताओ के यह वादे खोखले साबित हुए। यहां तक की शहीद के परिजनों ने अपने जेब से रकम खर्च कर शहीद की समाधि की बाउंड्री करायी। अब शहीद का परिवार सीएम योगी से मिलना चाहता है जिसके लिए परिवार अब अनशन पर बैठ गया है। बता दें कि सीएम योगी 21 मई को मुरादाबाद आ रहे हैं।

पाक गोलाबारी में हुए थे शहीद

पाक गोलाबारी में हुए थे शहीद

संभल के पनसुखा मिलक गांव के रहने वाले सुधीश कुमार पाकिस्तानी सेना की गोलीबारी में 16 अक्टूबर 2016 को शहीद हो गये थे। शहीद की शहादत के समय यूपी के सीएम अखिलेश यादव थे। शहीद सुधीश के परिजनो ने सीएम अखिलेश यादव को घर बुलाने के लिए अन्न त्याग कर अनशन पर बैठ गए थे लेकिन कुछ व्यस्तता के कारण सीएम का दौरा नहीं हो सका तो सीएम ने शहीद के परिजनों को लखनऊ आने के लिए कहा लेकिन सुधीश के परिवार ने लखनऊ जाने से इंकार कर दिया।

अखिलेश यादव को शहीद के घर न आने को भाजपा ने बनाया मुद्दा

अखिलेश यादव को शहीद के घर न आने को भाजपा ने बनाया मुद्दा

अखिलेश यादव के न आने के बाद भाजपा नेताओ ने इस मामले को मुद्दा बना लिया और फिर सुधीश के घर भाजपा नेताओ का जमावड़ा भी शुरू हुआ। भाजपा के प्रदेश महामन्त्री अशोक कटारिया भी सुधीश के परिजनों से मिलने पहुँचे। इसके आलावा भाजपा संभल सांसद सतपाल सैनी, अमरोहा सांसद कंवर सिंह तंवर भी मिलने पहुँचे। सपा में मंत्री पद छिनने के बाद शिवपाल यादव भी सुधीश के परिजनों से मिलने पहुँचे। भाजपा के प्रदेश महामंत्री अशोक कटारिया के आश्वशन पर परिवार ने अनशन तोड़ दिया था। अब गांव के आसपास के लोगो को सीएम योगी आदित्यनाथ की मुरादाबाद में 21 मई को आने की जानकारी मिली तो परिवार ने गांव के लोगों के साथ अनशन पर बैठने का फैसला लिया।

अधिकारियों ने फिर दिया आश्वाशन

अधिकारियों ने फिर दिया आश्वाशन

शहीद सुधीश कुमार के परिजनों द्वारा अनशन पर बैठने के बाद अधिकारी एक बार फिर इस गांव के चक्कर लगाने लगे हैं। एसडीएम रशीद अली ने गांव पहुँचकर जल्द मांग पूरी कराने का आश्वाशन दिया है। साथ ही गांव में 30 सफाई कर्मियो को लगाकर सफाई करानी शुरू करा दी है। बिजली विभाग को भी गांव में जल्द लाइट शुरू कराने का आश्वशन दिया है। और कहा कि वेकेंसी निकलने के बाद परिवार के एक लोग को नौकरी दी जायेगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Martyrs family sits on hunger strike, Seeking to meet cm Yogi
Please Wait while comments are loading...