अपहरण करने वाले झांसी पुलिस के हत्थे चढ़े, पेशे से डॉक्टर महिला भी गैंग शामिल

Written by: नरेंद्र पंडित
Subscribe to Oneindia Hindi

झांसी। उत्तर प्रदेश के झांसी स्थित ग्रामीण बैंक टहरौली के कैशियर मयंक गांधी के अपहरण मामले में स्थानीय पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है।

jhansi

मामले की विवेचना कर रहे झांसी पुलिस को शुक्रवार दोपहर सूचना मिली कि मयंक का अपहरण करने वाला गैंग जिले के समथर जंगल में घूम रहा है।

अपना सिक्का उछालने की कोशिश में अलकायदा!, कहा- कश्मीर के लोग पाक पर न करें यकीन

इसके बाद पुलिस ने फुर्ती दिखाते हुए कार्रवाई की। कार्रवाई के दौरान गैंग से हुई मुठभेड़ के बाद पुलिस के हत्थे पांच लोग चढ़े। इन पांच लोगों में 1 महिला भी शामिल है।

गिरफ्तार महिला है डॉक्टर

TOP 10: भारतीय टेस्‍ट क्रिकेट के ये हैं अब तक के 10 सबसे बड़े टेस्ट मैच

महिला का नाम डॉ. प्रिया गुप्ता है। इस गैंग का मुखिया बंशी शर्मा है जो मध्य प्रदेश के मुरैना जिला का कुख्यात अपराधी है।

jhansi

पुलिस ने अपराधियों से दो पिस्टल, एक कट्टा और एक बंदूक के साथ 10 लाख 52 हजार रुपये नकद बरामद किया है। पुलिस के अनुसार गैंग के संदीप शर्मा, बंशी शर्मा, आदित्य सोनी, नरेंद्र सिंह और डॉ प्रिया गुप्ता को गिरफ्तार किया गया है।

jhansi

पुलिस की गिरफ्त में आई प्रिया ने बताया कि इसके बाद उनका निशाना भोपाल का कोई बड़ा डॉक्टर थे। वे उसका भी अपहरण करने वाले थे।

ये था मामला

भारत का भरोसा तोड़ रूस ने रावलपिंडी में भेजी अपनी सेना!

jhansi

बता दें कि इसी साल 22 जुलाई 2016 को ग्रामीण बैंक टहरौली के कैशियर मयंक गांधी जब बैंक जा रहे थे, तभी गैंग ने उनका अपहरण कर लिया था।

मयंक को छोड़ने के एवज में उन्होंने परिजनों से 50 लाख रुपए की फिरौती मांगी थी। जिसके बाद 19 अगस्त को गैंग ने मयंक को 35 लाख रुपए की फिरौती लेकर छोड़ दिया था।

गैंग ने बताया कि मयंक का अपहरण करने के बाद उसे मध्य प्रदेश के इंदौर में किराए के मकान में रखा था।

बुंदेलखंड में धड़ल्‍ले से खरीदी-बेची जा रही हैं कागजी दुल्‍हनें, स्‍टाम्‍प पेपर पर हो जाती है शादी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Jhansi police Arrested Kidnappers of bank cashier mayank
Please Wait while comments are loading...