रायबरेली: जिगर के टुकड़े को सिर्फ 2 हजार रुपए के लिए बेचना चाहती है मां, पुलिस पीछे हटी

Subscribe to Oneindia Hindi

रायबरेलीमां की ममता पर पेट की भूख इस तरह भारी पडी की वह अपने दो दिन के नवजात शिशु को बेचने पर अमादा हो गयी। यह पूरी घटना कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र उत्तर प्रदेश स्थित रायबरेली की है जहां रेलवे स्टेशन परिसर में एक दिव्यांग मां अपने दो दिन के नवजात के साथ ही अपनी भी पेट की भूख को मिटाने के लिए अपने जिगर के टुकडे का सौदा मात्र दो हजार रूपये में करने को तैयार है। यही नहीं रेवले स्टेशन परिसर में तैनात जीआरपी पुलिस इस मामले को जानते हुए भी अपना पल्ला झाड रही है। तस्वीर में दिव्यांग महिला खुशबू को और इसकी गोद में मात्र दो दिन के नवजात शिशु को आप देख सकते हैं। इस भीषण ठंड में आसमान ही इस मां व नवजात की छत हैं और प्रकृति के प्रकोप से बचने का भी यही सहारा है। सब कुछ देखते हुए भी ना तो समाजसेवी और ना ही जिम्मेदार जीआरपी पुलिस इस महिला की मदद को तैयार है।

रायबरेली: जिगर के टुकड़े को सिर्फ 2 हजार रुपए के लिए बेचना चाहती है मां, पुलिस ने कहा हमारी कोई जिम्

जिसके चलते थक हार कर यह मां अपने दो दिन के जिगर के टुकड़े को मात्र चंद रूपये में बेचने को तैयार है जिससे वह अपनी पेट की आग को बुझा सके और बच्ची को भी सही ठिकाना मिल सके। महिला का नाम खुशबू है और इसके रहने का आशियाना यही रेवले स्टेशन है। जहां पर यह भीख मांग कर अपना पेट पालती है पर दो दिन पूर्व जन्मी इस दुधमुही का पेट यह कैसे पाले इसको लेकर यह परेशान है क्योंकि जब इसको खुद का पेट भरने का ठिकाना नहीं है तो यह मासूम दुधमुही बच्ची का पेट कैसे पाले। वहीं जब परेशान व लाचार मां से नवजात को बेचने का कारण पूछा गया तो वह रो पडी और कहा कि अभी कल ही यह बच्ची जन्मी है पेट की आग बुझाने के लिए हम इसे मात्र दो हजार रूपये में बेच रहे हैं पर अभी तक इसका खरीददार भी हमे नहीं मिला हैं। 

यह महिला दिव्यांग है और गरीबी के कारण यह अपनी नवजात शिशु को बेचने के लिए तैयार है ताकि यह अपना पेट पाल सके। कुछ लोगों ने रेलवे प्रशासन व सरकार पर भी जम कर भड़ास निकालते हुए कहा कि यह महिला अपने दुधमुहे बच्चे के साथ पड़ी है पर मौके पर आये जीआरपी पुलिस के लोगो ने खुद अमर्यादित बातें कहते हुए अपने कर्तव्यों से इतिश्री कर ली। थानाध्यक्ष जीआरपी रायबरेली चेतराम वर्मा मीडिया की सूचना पर धूप लेकर उठे और मौके पर पहुंचकर देखा पर जब मीडिया ने उनसे सवाल जवाब किया तो वह भड़क उठे और कहा कि ऐसी कोई घटना ही नहीं है एक मां अपनी मासूम के साथ है लेकिन उनकी कोई जिम्मेदारी नहीं है। ये भी पढ़ें:600 लड़कियों के साथ किया था यौन उत्पीड़न, पुलिस ने किया अरेस्ट

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
In raebareli ,uttar pradesh a women want to sold her newborn baby
Please Wait while comments are loading...