हिंदु युवा वाहिनी को भाजपा के खिलाफ उम्मीदवार उतारना पड़ा महंगा

Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। योगी आदित्यनाथ की विंग हिंदु युवा वाहिनी को भाजपा के खिलाफ उम्मीदवारों के नामों की घोषणा करना महंगा पड़ा है। योगी आदित्यनाथ ने युवा वाहिनी के राज्य अध्यक्ष सुनील सिंह को बर्खास्त कर दिया है। सुनील सिंह ने कहा था कि प्रदेश में भाजपा के खिलाफ हिंदु युवा वाहिनी चुनाव लड़ेगी। उन्होंने कहा था कि वह भाजपा के खिलाफ 60 उम्मीदवार उतारेगी, जिसमें से छह उम्मीदवारों के नाम की घोषणा भी कर दी थी।

yogi adityanath

सुनील सिंह ने आरोप लगाया था कि भाजपा ने योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार नहीं घोषित किया और उनके द्वारा दिए गए उम्मीदवारों के नामों की भी नजरअंदाज किया गया है। हालांकि योगी आदित्यनाथ ने युवा वाहिनी के इस दावे को खारिज करते हुए कहा कि हिंदु युवा वाहिनी गैर राजनीतिक पार्टी है और इसके उम्मीदवार अपनी जमानत नहीं खो सकते हैं। हिंदु युवा वाहिनी के नेता राघवेंद्र सिंह ने कहा कि सुनील सिंह हिंदु युवा वाहिनी के संविधान का उल्लंघन किया था जिसके चलते उन्हें निष्कासित कर दिया गया है।

राघवेंद्र सिंह ने कहा कि संस्था के नियमों को तोड़ने के चलते सुनील सिंह को बर्खास्त किया गया है, यह निर्देश कार्यालय के इंचार्ज पीके मल सिंह के द्वारा जारी किया गया है। आपको बता दें कि योगी आदित्यनाथ मौजूदा समय में पश्चिमी उत्तर प्रदेश में प्रचार की कमान संभाल रहे हैं। पीएम मोदी के बाद योगी आदित्यनाथ को प्रदेश में स्टार प्रचारकों की लिस्ट में दूसरा स्थान प्राप्त है और तमाम जगहों के नेता उन्हें अपने संसदीय क्षेत्र में प्रचार में शामिल होने का न्योता दे रहे हैं। योगी आदित्यनाथ पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कुल 12 रैलियों को संबोधित करेंगे, जिसमें मुख्य रूप से साहिबाबाद मेरठ, आगरा, डासना और दादरी शामिल हैं।

इसे भी पढ़ें- यूपी विधानसभा चुनाव 2017: मुलायम सिंह यादव के चुनाव प्रचार को लेकर राम गोपाल यादव ने दिया बड़ा बयान

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Hindu Yuva Vahini state head sacked after he announce to candidate name against BJP. He was sacked by the Yogi Adityanath who is head of Hindu Yuva Vahini.
Please Wait while comments are loading...