यूपी: नौकरी के लिए बीए पास युवाओं ने साफ किया नाला, झाड़ू भी लगाई

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में रोजगार की स्थिति क्या है इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि यहां सफाई कर्मचारी की नौकरी के लिए एमए (पोस्ट ग्रेजुएट) और बीए (ग्रेजुएट) छात्रों ने आवेदन किया है। इतना ही नहीं इन लोगों को बाकायदा नौकरी से पहले सफाई तक करके दिखाना पड़ा।

यूपी: नौकरी के लिए बीए पास युवाओं ने साफ किया नाला, झाड़ू भी लगाई

नगर निगम में संविदा सफाई कर्मचारियों की भर्ती के लिए टेस्ट

नगर निगम में संविदा सफाई कर्मचारियों की भर्ती के लिए 3 हजार से ज्यादा पदों पर परीक्षा का आयोजन किया गया। चौंकाने वाली बात ये है कि सफाई कर्मचारी के लिए भी प्रदेशभर से करीब 5 लाख लोगों ने आवेदन किए।

एक करोड़ से ज्यादा बेरोजगार, परीक्षा कराना ही प्रदेश में बड़ी चुनौती

इनमें बीए, एमए किए हुए युवा अभ्यर्थी शामिल थे। फॉर्म भरने के बाद जब इंटरव्यू का दौर शुरू हुआ तो करीब 200 अभ्यर्थियों को इसके लिए बुलाया गया। जब ये लोग इंटरव्यू के लिए पहुंचे तो वहां उन्हें सफाई करने का काम सौंपा गया।

चौंकाने वाली बात ये रही कि सफाई कर्मचारियों का आवेदन करने वालों में महिला अभ्यर्थी थी। इंटरव्यू के दौरान महिला आवेदकों को झाड़ू लगाने का काम सौंपा गया, वहीं पुरुष आवेदकों को नाले की सफाई की जिम्मेदारी दी गई।

परीक्षा में 5 लाख के करीब अभ्यर्थियों ने किया है आवेदन

इंटरव्यू के दौरान ऐसी शर्त रखे जाने पर कुछ लोग इसमें शामिल नहीं हुए। उन्होंने परीक्षा छोड़कर जाने में ही भलाई समझी। हालांकि कई लोग ऐसे भी थे जो इस परीक्षा में शामिल हुए। उन्होंने नाले में उतरकर सफाई की। वहीं महिला अभ्यर्थियों ने झाड़ू लगाई।

नौकरी के मामले में विवाहित महिलाओं से पिछड़ी सिंगल लड़कियां

अभ्यर्थियों से जब इस बारे में बात की गई तो उन्होंने बताया कि उन्हें नौकरी बहुत जरूरत है। प्राइवेट नौकरी में उन्होंने कई बार आवेदन किया लेकिन कोई फायदा नहीं मिला। ऐसे में बीए और एमए की डिग्री के बावजूद भी संविदा सफाई कर्मचारी की नौकरी के लिए हमने आवेदन किया।

उन्होंने बताया कि डिग्री होते हुए भी नौकरी नहीं होने से वो परेशान थे। अब इस नौकरी के लिए उन्होंने अपने परिवार वालों को भी मना लिया है। अगर इसमें चुने गए तो हमारे लिए यही अच्छा रहेगा।

पुरुष अभ्यर्थियों ने साफ किया नाला, महिला अभ्यर्थियों ने लगाई झाड़ू

फिलहाल नौकरी के लिए युवा बेरोजगारों ने नाला सफाई का काम किया। उन्हें शुरू में इस काम को लेकर संकोच हुआ लेकिन सवाल नौकरी से जुड़ी परीक्षा का था तो उन्होंने हार नहीं मानी।

कर्नाटक सरकार ने की तैयारी, निजी क्षेत्र की नौकरियों में होगा 100% आरक्षण का नियम

दूसरी ओर महिला अभ्यर्थियों में कई अपने परिवार के साथ आई थी। उन्हें सड़क पर झाड़ू लगाना था तो उन्होंने भी झाड़ू संभालते हुए परीक्षा में जुट गई। सभी का यही कहना था कि सवाल नौकरी का है तो वो पीछे कैसे रह सकती हैं।

अभी संविदा सफाई कर्मचारियों के इंटरव्यू का पहला दौर था। पांच लाख लोगों ने आवेदन किया है। अभी बाकी अभ्यर्थियों को भी टेस्ट के लिए बुलाया जाएगा।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
graduate, Post graduate applicants applied for job in UP.
Please Wait while comments are loading...