उत्तर प्रदेश पुलिस की लापरवाही, 36 गायों को गाड़ी में ठूसा, 4 मर गईं

Subscribe to Oneindia Hindi

मथुरा। इटावा पुलिस को सूचना मिली कि हनुमानपुरा तिराहे के निकट कुछ लोग एक ट्रक में जबरन गायों को भर रहे हैं। तभी मौके पर पहुंची पुलिस टीम को देख वहं से चालक और क्लीनर ट्रक छोड़कर फरार हो गये। पुलिस ने गायों से भरे ट्रक को अपने कब्जे में ले लिया। इटावा के गौ रक्षक दल के पदाधिकारियों ने इस सम्बन्ध में अभियोग भी पंजीकृत करा दिया है। Read Also: बोरों में भूसे की तरह भरे मिले 5 करोड़ रुपए के कतरे हुए नोट

उत्तर प्रदेश पुलिस की लापरवाही, 36 गायों को गाड़ी में ठूसा, 4 मर गईं
 

गौ रक्षकों ने गायों की निस्वार्थ सेवा के लिए पुलिस को वृन्दावन की श्रीपाद बाबा गौशाला का नाम सुझाया। तब इंस्पेक्टर देवेन्द्र सिंह ने पकड़ी गई सभी 36 गायों को एक डबल डैकर में भरकर वृन्दावन के लिए रवाना करवा दिया। जब गाय श्रीपाद बाबा गौशाला पहुँची तो 36 में से चार गाय रास्ते में ही दम तोड़ चुकी थीं और 3 गाय घायल अवस्था में मिलीं।

रमेश शर्मा ने बताया कि पशुचिकित्सक द्वारा घायल गायों का यहां उपचार कराया जा रहा है। करीब चार हजार गायों की निस्वार्थ सेवा के लिए श्रीपाद बाबा गौशाला आसपास के क्षेत्र में चर्चित गौशाला है। इस गौशाला में दामोदर बाबा की देखरेख गायों का पालन पोषण किया जाता है।

हकीकत यह है कि यहां 90 फीसदी गायें समय-समय पर पुलिस द्वारा पकड़कर भेजी हुई हैं।आपको बता दें कि विगत 5 जनवरी को नोएडा के महर्षि वेद विज्ञान विधापीठ ने 15 गाय और एक बछड़े को परवरिश के लिए यहां भेजा था। Read Also: विधायक ने छात्रा से पूछा, रेप के बाद ब्लड कहां से निकलता है?

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Due to negligence of Uttar Pradesh police, four cows died after many cows forcibly loaded on a bus.
Please Wait while comments are loading...