पीएम मोदी के गढ़ वाराणसी में भाजपा पर पूर्व नेता ने लगाया बड़ा आरोप

Subscribe to Oneindia Hindi

वाराणसी। प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र काशी में भारतीय जनता पार्टी के समर्थकों और नेताओं के पार्टी के शीर्ष नेताओं पर लगाये जा रहे आरोपों की झड़ी कम ही नहीं हो रही हैं। अभी बीते दिनों वाराणसी के शिवपुर विधानसभा में जहाँ एक नाराज कार्यकर्ता ने टिकट के बदले पार्टी के नेता पर 25 लाख रुपये की मांग का आरोप लगाया था वहीं अब एक बार फिर पार्टी के ही नेता रहे अशोक सिंह ने पूरी पार्टी के नेतत्त्व को कटघरे में खड़ा कर दिया हैं।

Read Also: यूपी चुनाव के लिए भाजपा ने जारी की पांचवी लिस्ट

वाराणसी: 'अमित शाह के करीबी ने टिकट देने के लिए मांगे 1 करोड़ रुपए'

पार्टी की सदस्यता छोड़ने वाले सिंह ने कहा कि मैंने भाजपा की नीतियों पर पार्टी ज्वाइन की थी पर इस बार टिकट के बदले मुझसे अमित शाह के करीबी और पार्टी के कई नेताओं के प्रतिनिधि ने एक बार 25 लाख और दूसरी बार 1 करोड़ रुपये की माँग की थी और पैसा ना देने पर मुझे टिकट नहीं दिया गया।

क्या लगाये आरोप
बीते लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के पाले से बीजेपी में आने वाले अशोक सिंह ने पार्टी पर ये आरोप लगया है कि अब ये पुरानी भाजपा नहीं रह गयी है। बीजेपी की नीतियां पहले ऐसी नहीं थी और अब यहां भी बाकी राजनैतिक पार्टियों की तरह टिकट के बदले पैसों की मांग की जाती है, जिसके लिए बिचौलिये भी आ गए हैं । उन्होंने कहा, 'मुझे भी वाराणसी और दिल्ली में कई बार बुलाया गया और मुझसे बायोडाटा भी माँगा गया। वाराणसी के होटल में और दिल्ली के रेडिसन के साथ ही एक और होटल में मुझे बुलाया गया और फिर मुझसे अमित शाह व ओम माथुर के करीबी नेता ने प्रधानमंत्री के अपने घनिष्ठ सम्बंध का हवाला देते हुए फोटो भी दिखाई और कहा कि सारी बातें ही चुकी हैं, बस आप पैसे का इंतजाम कर लीजिए, बाकि लोग तो 2 से 3 करोड़ देने को तैयार हैं पर आप सामाजिक हैं इसलिए सिर्फ 1 करोड़ रुपये का इंतेजाम कर लीजिये, आपको वाराणसी के उत्तरी या शिवपुर विधान सभा से पार्टी के सिम्बल पर चुनाव लड़ाया जायेगा, आप तैयारी कर लीजिए।

लड़ रहे है पार्टी के खिलाफ निर्दल चुनाव
सिंह मेडिकल एण्ड रिसर्च सेंटर के डायरेक्टर और पूर्व भाजपा नेता अशोक सिंह अब पार्टी की नीतियों से आहत होकर भाजपा की सदस्यता से इस्तीफा दे चुके हैं, और वाराणसी के उत्तरी विधान सभा के बीजेपी के उम्मीदवार रविन्द्र जयसवाल के खिलाफ इस चुनाव में ताल ठोकने की तैयारी कर चुके हैं।

Read Also: गंगा-यमुना दोआब में क्या भाजपा की नैया पार कराएंगी साध्वी निरंजन ज्योति?

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Former BJP leader alleged that party demanded one crore rupees for ticket.
Please Wait while comments are loading...