शाम ढलते ही नीली बत्ती लगाकर करते थे वसूली, फिल्म देखकर आया था आइडिया

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

इलाहाबाद। आसपास के जिलों में नीली बत्ती लगाकर वसूली करने वाला गिरोह आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ गया। आरटीओ के नाम पर ये शातिर गाड़ियों को रोकते और फिर फर्जी चेकिंग के बहाने हर दिन लाखों रुपए की कमाई कर रहे थे। महीनों से शातिरों का ये गोरखधंधा फल-फूल रहा था लेकिन देर रात एक ट्रक चालक ने पुलिस कंट्रोल में शिकायत की। जिसके बाद पूरे गिरोह को दबोच लिया गया।

Read more: संभल: बीच सड़क पुलिस वाली से महिला की गुत्थमगुत्था, देखिए तस्वीरें

शाम ढलते ही नीली बत्ती लगाकर करते थे वसूली, फिल्म देखकर आया था आइडिया

फिल्मों से लिया आइडिया

इलाहाबाद की मऊआइमा पुलिस ने नीली बत्ती लगी कार से लूट करने वाले गिरोह को देर रात दबोचा तो कई प्रकरण भी खुले। शातिरों ने फिल्में देखकर ये आइडिया बनाया था। पहले ट्रक लूटते थे लेकिन आरटीओ बनकर पैसा कमाना आसान व कारगर तरीका लगा इसलिए इसके बाद लड़कों ने अपनी गैंग बनाई और ताबड़तोड़ घटनाओं को अंजाम देने लगे।

तीन जिलों के शातिर थे शामिल

पकड़े गए पांच बदमाशों के पास से दो रिवॉल्वर, दो तमंचे मिले हैं। गिरोह में इलाहाबाद, प्रतापगढ़ और सुल्तानपुर के लुटेरे शामिल हैं। इन सब का क्रिमिनल रिकॉर्ड तलाशा जा रहा है। इनकी पहचान मकबूल जोगापुर, इसरार और अजहरु खजूरी सुल्तानपुर, एजाज निवासी कंहई प्रतापगढ़ और शेबू दुबाही मऊआइमा इलाहाबाद से हुई हैं।

इलाहाबाद-प्रतापगढ़ बॉर्डर पर पकड़ा गया गिरोह

इलाहाबाद-प्रतापगढ़ बॉर्डर पर देर रात शातिरों ने दुबाही नहर के पास नीली बत्ती लगी बोलेरो कार लगाकर फर्जी आरटीओ चेकिंग का माहौल बनाया। फिर ट्रकों को रोककर वसूली करने लगे। एक ट्रक चालक ने शक होने पर 100 नंबर पर फोन कर दिया तो एसएसपी शलभ माथुर ने तत्काल पुलिस फोर्स मौके पर भेजी। पुलिस ने घेराबंदी कर इन बदमाशों को दबोच लिया।

लंबे समय से लूटते आ रहे थे ट्रक

पूछताछ में बदमाशों ने लूट की कई वारदातों का खुलासा किया है। बदमाश मौका पाने पर पूरी ट्रक ही लूट लेते थे। इसी गिरोह ने 10 फरवरी को विश्वनाथगंज में ट्रक लूटा था। ट्रक मालिक शाहिद ने मान्धाता में मुकदमा दर्ज कराया था। अब पुलिस इनके अन्य साथी व लूट का सामान बरामद करने में जुटी है। इन्हें पकड़ने वाली टीम में सीओ सोरांव आलोक मिश्र, थाना प्रभारी मऊआइमा बृजेश बघेल, सिपाही अभिमन्यु यादव और डायल 100 के सिपाही मौजूद थे।

Read more: मऊ से जीते सभी BJP विधायकों कि प्रोफाइल में है दम, मंत्री बनने का देख रहे हैं ख्वाब

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Fake UP police use blue light to the recovery use truck drivers to make the victim in Allahabad
Please Wait while comments are loading...