'पीएम मोदी की सिक्योरिटी में हूं और तुम मुझे तीन लाख रुपया दोगे नहीं तो मार दिए जाओगे'

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

मिर्जापुर। मुजफ्फरनगर के एक युवक को इन दिनों एक महिला पीएम मोदी की सिक्योरिटी में है ये कहकर तीन लाख रुपए के लिए धमकी दे रही है। रुपया न मिलने पर युवक व उसके पिता को जान से मारने की धमकी दी जा रही है। व्हाट्सएप मैसेज पर महिला की आईडी मंगाने पर उसने महिला पुलिस का फोटो लगा आधार कार्ड दिया। जांच में पता चला कि फोटो नकली है, आधार संख्या से महिला का पता मिर्जापुर जिले के चुनार थाना क्षेत्र के अराजी लाइन का मिला। युवक ने यूपी पुलिस और एडीजी वाराणसी को टवीट कर इसकी जानकारी दी। जिस पर एडीजी वाराणसी ने मिर्जापुर डीआईजी को कार्रवाई के लिए कहा है।

'पीएम मोदी की सिक्योरिटी में हूं और तुम मुझे तीन लाख रुपया दोगे नहीं तो मार दिए जाओगे'

महिला का मित्र भी खुद को वाराणसी का एसएसपी बताकर दे रहा है धमकी

मुजफ्फरनगर के मंसूरपुर थाना क्षेत्र के सरसादी लाल डिस्टिलरी का रहने वाला मृदीप कुमार वाहन चालक है। उसने बताया कि मुझे और मेरे पिता को एक महीने से मिर्जापुर जिले के चुनार थाना क्षेत्र के अराजी लाइन से एक महिला फोन कर पीएम नरेंद्र मोदी की सिक्योरिटी बताकर तीन लाख रुपए की मांग कर रही है। 26 जून को लड़की का फोन आया। उसके बाद एक आदमी का फोन आया। खुद को वाराणसी का एसएसपी बताकर रुपया न देने पर पिता की हत्या करने की धमकी दी।

'पीएम मोदी की सिक्योरिटी में हूं और तुम मुझे तीन लाख रुपया दोगे नहीं तो मार दिए जाओगे'

आधार कार्ड से पता चला फर्जी है पुलिस

महिला ने युवक के व्हाट्सएप नंबर पर मैसेज किया। युवक ने महिला से आईडी मांगी तो उसने महिला पुलिस की फोटो लगी आईडी दी। उसकी जांच करायी गई तो फोटो किसी और का पाया गया, लेकिन नाम पता चुनार अराजी लाइन का मिला। मुजफ्फरनगर के मंसूरपुर थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया। मंसूरपुर पुलिस जांच में जुटी तो दो जुलाई को दस दिन में मुकदमा वापस लेने की धमकी दी जा रही है। मंसूरपुर पुलिस की जांच में पता चला है कि तीन-चार ठगों का एक गिरोह है जो धमकी देकर रुपया ऐंठता है।

'पीएम मोदी की सिक्योरिटी में हूं और तुम मुझे तीन लाख रुपया दोगे नहीं तो मार दिए जाओगे'

एसपी ने कहा संज्ञान में आने पर होगी कार्रवाई

मुजफ्फरनगर के मंसूरपुर निवासी मृदीप ने कार्रवाई के लिए मामले से संबंधित दस्तावेज एडीजी वाराणसी और यूपी पुलिस को ट्वीट किया है। जिस पर एडीजी वाराणसी ने डीआईजी को कार्रवाई का निर्देश दिया। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी ने बताया कि मामला संज्ञान में नहीं आया है। संज्ञान में आने पर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Read more: वो अपने पति से खुश नहीं थी और वो अपनी पत्नी से...फिर 8 बच्चों की खुशियां लुट गई

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Fake Police threaten for ransom
Please Wait while comments are loading...