आतंकियों से रिश्ते के लिए मशहूर हापुड़ में फर्जी पासपोर्ट कांड

Subscribe to Oneindia Hindi

हापुड़। उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले में फर्जी पते पर पासपोर्ट बनने का मामला सामने आने पर पुलिस अधिकारियों में हड़कंप मच गया है। फर्जी पासपोर्ट के मामले में दिल्ली से एनआईए के अधिकारियों ने हापुड़ में पहुंचकर जांच पड़ताल करनी शुरू कर दी है। हापुड़ पुलिस ने फर्जी पासपोर्ट के मामले में दंपति सहित तीन लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है और मामले की गंभीरता से जाँच कर रही है। आखिर एलआईयू और पुलिस की जाँच होने के बाद भी ये फर्जी पासपोर्ट कैसे बन गया था?

पासपोर्ट पर लिखा था संदिग्ध पता

पासपोर्ट पर लिखा था संदिग्ध पता

जानकारी के अनुसार सिटी कोतवाली क्षेत्र के दिलावर हुसैन निवासी भंडा पटटी ने वर्ष 2013 में पासपोर्ट बनवाया। पुलिस सूत्रों के अनुसार कुछ दिन पूर्व एनआईए व आईबी के अधिकारियों को दिलावर हुसैन द्वारा बनवाए गए पासपोर्ट के संदिग्ध पते पर बने होने की जानकारी मिली। जिस पर पुलिस ने पासपोर्ट का रिकार्ड निकलवाकर जांच पड़ताल शुरू कर दी। टीम जांच पड़ताल करते हुए हापुड़ पहुंच गई जहां उन्हें इस मामले में कामिल निवासी कानून गोयान व उसकी पत्नी अरशी के लिप्त होने की जानकारी मिली।

इस मामले की गहनता से जांंच कर रहा एलआईयू

इस मामले की गहनता से जांंच कर रहा एलआईयू

बताया जाता है कि दोनों ने गारंटर बनकर उसका खाता हापुड़ के जिला सहकारी बैंक में खुलवाया। साथ ही उसका पासपोर्ट बनने में सहयोग किया है। जिस पर आईबी व एनआईए के अधिकारियों ने हापुड़ पहुंचकर कामिल से भी पूछताछ की। लेकिन इस दौरान अधिकारी पूरे मामले को दबाने में जुटे रहे। सूत्रों के अनुसार फर्जी पते पर पासपोर्ट जारी हुआ है। पासपोर्ट में पते पर अंकित मकान संख्या भी भंडा पटटी में नहीं मिली है। हालांकि मामले को गंभीरता से लेते हुए दिलावर हुसैन, कामिल व अरशी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। लेकिन अभी तक दिलावर के बारे में कोई सुराग नहीं मिला है। सोमवार को भी एनआईए की टीम ने मामले में जांच पड़ताल की। लेकिन अभी तक पुलिस को ठोस सुबूत नहीं मिले हैं। उधर एलआईयू भी पूरे मामले को गहनता से जांच में जुट गई है।

हापुड़ से आतंक का पुराना रिश्ता

हापुड़ जिले का आतंक से पुराना रिश्ता है। जिले में अब्दुल करीम उर्फ टुंडा, हेडली जैसे आतंकियों का रिश्ता रहा है। इसके अलावा भी समय समय पर संदिग्ध लोगों की सूचना भी पुलिस को मिलती रही हैं। ऐसे में एक बार फर्जी पासपोर्ट का मामला सामने पर पुलिस सतर्क हो गई है। एसपी हेमंत कुटियाल ने बताया कि मामले में तीनों आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। गहनता से जांच कर आरोपियों की गिरफ्तारी कर कार्रवाई की जाएगी। साथ ही मामले में लिप्त मिलने पर पुलिस अधिकारियों के खिलाफ भी जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Fake passport case in Hapur, NIA investigating the matter.
Please Wait while comments are loading...