शिवपाल व मुलायम के बीच तनातनी से सपा में मिले नए संकेत

चाचा भतीजे के विवाद में मुलायम सिंह ने काफी लंबे समय तक शिवपाल यादव का साथ दिया लेकिन शिवपाल और मुलायम सिंह के बीच जिस तरह से पिछले दो दिनों में समीकरण बदले हैं उसने नए संकेत दिए हैं।

Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। उत्तर प्रदेश चुनाव से ठीक पहले समाजवादी पार्टी के भीतर सीटों के बंटवारे को लेकर उठापटक जारी है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव ने जिस तरह से अपनी 175 लोगों की लिस्ट मुलायम सिंह को सौंपी है उसमें वो तमाम नाम शामिल हैं जिसका अखिलेश यादव विरोध करते आ रहे हैं। चाचा भतीजे के विवाद में मुलायम सिंह ने काफी लंबे समय तक शिवपाल यादव का साथ दिया लेकिन शिवपाल और मुलायम सिंह के बीच जिस तरह से पिछले दो दिनों में समीकरण बदले हैं उसने नए संकेत दिए हैं।

शिवपाल व मुलायम के बीच तनातनी से सपा में मिले नए संकेत
ये भी पढ़ें- मीसा भारती ने ट्वीट कर के पीएम नरेंद्र मोदी से पूछा- क्यों बताएं कि हनीमून कहां मनाया और क्या खरीदा

दरअसल शिवपाल सिंह यादव मुलायम सिंह से मुलाकात करने के लिए उनसे उनके घर पहुंचे थे, लेकिन तकरीबन डेढ़ घंटे तक बातचीत के बाद जिस तरह से महज पांच मिनट की उनसे मुलाकात की और उन्हें पार्टी कार्यालय पहुंचने को कहा उससे इस बात के संकेत साफ मिले हैं कि दोनों के बीच सबकुछ ठीक नहीं है। बात यहीं नहीं खत्म होती है शिवपाल से महज पांच मिनट की मुलाकात के बाद मुलायम सिंह ने उनसे कहा कि आप पार्टी कार्यालय पहुंचे मैं आ रहा हूं। लेकिन मुलायम सिंह यादव शाम तक कार्यालय नहीं पहुंचे।
ये भी पढ़ें- यूपी के ललितपुर में दिखा 12 फुट का मगरमच्छ तो उड़ गए होश, कड़ी मशक्कत के बाद आया काबू में
सूत्रों की मानें मुलायम सिंह यादव ने अपने करीबियों से कहा कि हमारे यहां माता-पिता द्वारा अपने बेटों को आगे बढ़ाने की परंपरा है। वहीं जब शिवपाल उनसे मुलाकात के लिए पहुंचे तो उन्होंने कहा कि बैठाओ अभी बुलाता हूं, जो समय लेकर मुझसे मिलने आए हैं पहले उनसे तो मिल लूं। इसके बाद शिवपाल यादव काफी देर तक लाउंज में इंतजार करते रहे, यही नहीं दो बार उनके सहायक ने उन्हें फोन करके बताया कि शिवपाल यादव इंतजार कर रहे हैं, बावजूद इसके मुलायम ने उन्हें मिलने के लिए नहीं बुलाया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Everything is not wel between Mulayam and Shivpal Singh
Please Wait while comments are loading...