आसमान भी चुनाव आयोग के रडार पर, नहीं उड़ेंगी पीएम मोदी की पतंगें

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

बरेली। चुनावों में किसी भी तरह से चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन न हो इसके लिए चुनाव आयोग सभी राजनीतिक पार्टियों पर कड़ी निगरानी रख रहा है। मामला है बरेली का जहां पतंगों का बड़ा करोबार है। दुनिया भर में अपनी पहचान रखने वाली बरेली की पतंग इन दिनों चुनाव आयोग की रडार पर है। प्रशासन ने आचार संहिता लागू होने के बाद नेताओं की छपी तस्वीरों वाली पतंगें उड़ाने पर रोक लगा दी है। शुक्रवार को प्रशासन ने बरेली के कई हिस्सों में पतंगों की दुकानों को देखा। प्रशासन ने सबसे पहले किला बाजार, सराय खाम, रेती बाजार की दुकानों को पर छापा मारा। ये भी पढ़ें: गोरखपुर: बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चे ने विवादित पोस्टर जारी कर आचार संहिता का उड़ाया मजाक

आसमान भी चुनाव आयोग के रडार पर, नहीं उड़ेगी पीएम मोदी की पतंगें

चुनाव आयोग यूपी में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर सख्त हो चुका है। मिली जानकारी के मुताबिक, प्रशासन को इस कार्रवाई के दौरान पीएम मोदी की तस्वीरों वाली पतंगें मिली। प्रशासन ने इसे चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन मानते हुए दो लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवाई है। प्रशासन की इस कार्रवाई से पतंग कारोबारियों में पूरी तरह से खलबली मच गई है।

आसमान भी चुनाव आयोग के रडार पर, नहीं उड़ेंगी पीएम मोदी की पतंगें

कोतवाल के.के वर्मा के अनुसार किला क्षेत्र के सराय खाम के व्यापारी ईमाम अली, साजिद की दुकान पर पीएम मोदी की तस्वीरों वाली पतंगें बिक रही थी। जिन्हें लोग खरीदने के बाद खुले आसमान में उड़ा रहे थे। जो कि चुनाव प्रचार का एक हिस्सा माना जा रहा है और ये चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन के दायरे में आता है। इसी के तहत दो लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। वहीं, जिले के आलाधिकारियों का कहना है कि जो भी आचार संहिता का दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। ये भी पढ़ें: यूपी चुनाव: बसपा जिलाध्यक्ष की कार से 5 लाख की नकदी बरामद, ज्यादातर नोट 2000 के

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
election commission banned kites with pm modi photo at bareilly kites market in uttar pradesh.
Please Wait while comments are loading...