महज डॉक्टर नहीं थे इलाहाबाद के एके बंसल, अरबों की संपत्ति का कारोबार

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

इलाहाबाद। शहर के मशहूर डॉक्टर अश्विनी कुमार बंसल की जिस तरह उनके क्लीनिक में चैंबर के भीतर घुसकर हत्या को अंजाम दिया गया है उसने पूरे शहर को स्तब्ध कर दिया है। लोग अभी भी इस बात को यकीन नहीं कर पा रहे हैं कि डॉ बंसल अब इस दुनिया में नहीं रहे। डॉ बंसल को ना सिर्फ लखनऊ बल्कि देश के विख्यात डॉक्टरों में शुमार किया जाता था। लेकिन पेशे से डॉक्टर के अलावा भी बंसल कई अन्य व्वयवसाय में भी शामिल थे, उनका कारोबार ना सिर्फ इलाहाबाद बल्कि नोएडा, लखनऊ, दिल्ली सहित विदेश में भी था।

पहले भी हो चुके हैं हमले

पहले भी हो चुके हैं हमले

इससे पहले 2015 में भी डॉक्टर बंसल पर जानलेवा हमला हो चुका है, उस वक्त जब डॉक्टर बंसल अपनी कार से जार्जटाउन स्थित अपने घर जा रहे थे तो बाइक सवार ने उनपर बम से हमला किया था और फायरिंग भी की थी, लेकिन उस हमले में डॉक्टर बंसल की गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई थी लेकिन वह बाल-बाल बच गए थे। इस घटना के बाद डॉक्टर बंसल ने बिल्डर संजीव अग्रवाल पर आरोप लगाया था। लेकिन गुरुवार के हमले से ठीक चार महीने पहले भी डॉक्टर बंसल को धमकी मिली थी, उस वक्त भी डॉक्टर बंसल ने सुरक्षा कीमांग की थी।

भाजपा अध्यक्ष ने प्रशासन पर उठाए सवाल

भाजपा अध्यक्ष ने प्रशासन पर उठाए सवाल

डॉ बंसल की हत्या के बाद भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या ने भी दुख जताया है और इसके पीछे प्रशासन की लापरवाही बताई है। उन्होंने कहा कि डॉ बंसल पर पहले भी हमले हुए हैं और उन्हें धमकियां मिलती रही हैं, उन्होने सुरक्षा की मांग भी की थी, अगर उन्हें सुरक्षा मुहैया कराई गई होती तो उनकी जान को खतरा नहीं होता। मौर्या ने कहा कि इस घटना ने एक बार फिर से प्रदेश में अपराधियों के दुस्साहस का प्रमाण दिया है।

कई जगहों पर जमीन को लेकर विवाद

कई जगहों पर जमीन को लेकर विवाद

डॉ बंसल का अरबों रुपए का साम्राज्य है और वह यूं नहीं बना, इस रास्ते में उनके कई दुश्मन बने और कई लोगों से उनका विवाद हुआ। डॉ बंसल लखनऊ में तकनीकि कॉलेज खोलना चाहते थे, इसके लिए जमीन को लेकर उनका काफी दिनों से विवाद चल रहा था, जिसके चलते यह विवाद ब्लैकमेलिंग तक पहुंच गया था। इसके अलावा डॉ बंसल का इलाहाबाद के ही एक बड़े प्रापर्टी डीलर से भी विवाद चल रहा था। यही नहीं लखनऊ और नोएडा में खरीदी गई जमीन को लेकर भी डॉ बंसल की तमाम राजनीतिक दलों के नेताओं से रार हो चुकी थी। इस रार की बड़ी वजह यह थी कि जब ये लोग डॉक्टर बंसल के साथ व्यवसाय में सहयोगी थे तो उनके साथ थे लेकिन जब डॉ बंसल ने से इनका विवाद हुआ तो यह अलग हो गए।

राजनीतिक दलों के साथ करीबी

राजनीतिक दलों के साथ करीबी

राजनीतिक दल के नेताओं, प्रापर्टी डीलरों के अलावा डॉ बंसल का शहर के वकीलों से भी छत्तीस का आंकड़ा था। हालांकि पहले डॉ बंसल मरीजों के तीमारदारों के साथ गलत इलाज को लेकर विवादों में फंसते थे और तीमारदार उनके खिलाफ मामला दर्ज कराते थे, लेकिन धीरे-धीरे यह विवाद जमीन-जायदाद को लेकर बढ़ने लगा और प्रापर्टी को लेकर उनके खिलाफ मामले दर्ज होने लगे। इलाहाबाद में यमुना के पार डॉक्टर बंसल ने करोड़ो रुपए की जमीन खरीदी थी। शहर के लोग डॉक्टर बंसल के बारे में कुछ अलग राय रखते हैं, लोग डॉक्टर बंसल को एक व्यापारी के तौर पर देखते हैं, स्थानीय लोगों का कहना है कि डॉक्टर बंसल के कई बड़े नेताओं से संबंध थे और वह अक्सर विवादों में रहते थे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Dr AK Bansal who died in allahabad has a history of controversy. He has been involved in many property dispute.
Please Wait while comments are loading...