नोटबैन: विरोध-प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जलाए 500 के नोट

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। नोटबंदी के खिलाफ विपक्ष द्वारा बुलाए विरोध-प्रदर्शन का आज देशभर में मिला-जुला असर देखने को मिला। वहीं कुछ इस तरह की भी खबरें आईं, जिनको लेकर प्रदर्शनकारियों को आलोचना का सामना करना पड़ रहा है।

NOTE

विपक्ष द्वारा बुलाए गए नोटबैन के दौरान उत्तर प्रदेश के मेरठ में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने 500 के पुराने नोटों को जलाकर विरोध किया। इसका एक वीडियो सामने आने और न्यूज चैनल पर दिखाए जाने के बाद प्रदर्शनकारियों के इस कृत्य की काफी आलोचना हो रही है। सोशल मीडिया पर भी इसको लेकर विरोध हो रहा है।

भारत बंद: नोटबंदी के खिलाफ सड़क पर उतरीं ममता बनर्जी, हिरासत में लिए गए DMK नेता एमके स्टालिन

देशभर में रहा मिला-जुला असर

दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु और कर्नाटक समेत करीब 11 राज्यों में बंद का असर ज्यादा देखने को मिला। सरकार के फैसले के विरोध में कई जगहों पर चक्का जाम और विरोध मार्च भी देखा जा रहा है। पश्चिम बंगाल में कई जगहों पर प्रदर्शनकारियों और टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच झड़प भी हुई।

आंध्र प्रदेश में विरोध-प्रदर्शन के दौरान पुलिस और प्रदर्शनकरियों के बीच झड़प भी हुई। सीपीआईएम की ओर से किए गए ट्वीट में कहा गया कि कामगारों की आवाज शांत नहीं होगी। आंध्र प्रदेश के अलावा तेलंगाना और महाराष्ट्र में भी वामपंथी ट्रेड यूनियनों के लोग सड़क पर उतरे और सरकार की नीतियों के खिलाफ आवाज उठाई। प्रदर्शनकारियों ने सरकार को मजदूर विरोधी करार दिया।

भारत बंद के दौरान पश्चिम बंगाल में हिंसक झड़प, पब्लिक ट्रांसपोर्ट पर लगा ब्रेक

चेन्नई में बैंक कर्मचारियों और अधिकारियों ने सड़क पर उतरकर प्रदर्शन किया। कर्मचारी सरकार से फैसला बदलने की मांग कर रहे हैं। त्रिपुरा में भी सड़कों पर सरकार के विरोध में आवाजें उठीं। विरोध प्रदर्शन के दौरान पश्चिम बमगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी विपक्ष के दूसरे नेताओं के मुकाबले ज्यादा ताकतवर नजर आईं।

नोटबंदी पर विपक्ष के जन आक्रोश दिवस का बीजेपी ने ऐसे दिया जवाब

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
congress workers burn 500 note during bharat bandh
Please Wait while comments are loading...