इंदिरा की जयंती पर पीके प्रियंका के लिए अड़े, नेतृत्व गफलत में

कांग्रेस के रणनीतिकार प्रशांत किशोर चाहते हैं कि प्रियंका गांधी को इलाहाबाद में होने जा रही कांग्रेस की पार्टी की रैली में आमंत्रित किया जाना चाहिए।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। अगले साल होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी कांग्रेस पार्टी प्रियंका गांधी के रोल को लेकर अभी भी किसी फैसले पर नहीं पहुंच सकी है।

रीता हों या फिर स्वामी...क्या निजी स्वार्थों के चलते नेता बदल रहे पार्टी?

प्रियंका गांधी के रोल को लेकर कांग्रेस में हैं दो मत

ऐसा इसलिए क्योंकि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की जयंती पर पार्टी इलाहाबाद में एक बड़ी रैली आयोजित करने जा रही है। हालांकि पार्टी अभी तक ये तय नहीं कर सकी है कि इस रैली में प्रियंका गांधी को आमंत्रित किया जाए या नहीं।

क्या राहुल की वजह से मच रही है कांग्रेस में भगदड़, जानिए कौन-कौन गए

पीके चाहते हैं कि प्रियंका को इलाहाबाद रैली में किया जाए आमंत्रित

पार्टी सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस के रणनीतिकार प्रशांत किशोर चाहते हैं कि प्रियंका गांधी को इलाहाबाद में होने जा रही कांग्रेस की पार्टी की रैली में आमंत्रित किया जाना चाहिए। उनकी योजना है कि प्रियंका गांधी इस रैली में शामिल हों और भाषण भी दें।

इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक कांग्रेस नेतृत्व अभी राहुल गांधी की हाल ही में संपन्न हुई किसान यात्रा के बाद पार्टी की ताकत और कमजोरी के आंकलन में जुटी हुई है। पार्टी की योजना इसके आंकलन के बाद ही किसी फैसले पर पहुंचने की है।

19 नवंबर को इलाहाबाद में कांग्रेस की बड़ी रैली

बता दें कि 19 नवंबर को पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की जयंती है। इस दिन कांग्रेस पार्टी खास योजना के तहत अगले साल होने जा रहे यूपी चुनाव को लेकर अपना कैंपेन शुरू करेगी। इसके लिए पार्टी ने इलाहाबाद में बड़ी रैली आयोजित करने का फैसला लिया है। जिसमें सोनिया गांधी और राहुल गांधी समेत पार्टी के सभी बड़े नेता शामिल होंगे।

फिलहाल प्रियंका गांधी को लेकर सस्पेंस के बीच कांग्रेस पार्टी से जुड़ा एक धड़ा चाहता है कि 19 नवंबर की रैली में सोनिया गांधी, राहुल गांधी के साथ-साथ प्रियंका भी शामिल हों। इतना ही नहीं वो इस रैली को संबोधित करें।

इंदिरा की जयंती पर कांग्रेस पार्टी का बड़ा प्लान

दूसरी ओर कांग्रेस पार्टी से जुड़े कुछ नेता केवल राहुल गांधी और प्रियंका गांधी या फिर सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी को ही रैली में शामिल होने के पक्ष में हैं।

पूरे मामले को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और इलाहाबाद उत्तरी विधानसभा सीट से विधायक अनुग्रह नारायण सिंह ने बताया कि ये सच है कि इंदिरा गांधी की जयंती पर पार्टी बड़ा कार्यक्रम इलाहाबाद में आयोजित करने जा रही है। हालांकि इससे जुड़ी ज्यादा जानकारियां अभी सबको नहीं बताई जा सकती है।

क्या रैली में आएंगी प्रियंका गांधी, सस्पेंस कायम

शीला दीक्षित को कांग्रेस की ओर से मुख्यमंत्री उम्मीदवार घोषित किए जाने के बाद अब पार्टी उस वर्ग को आकर्षित करना चाहती है जिनका जुड़ाव 'कश्मीरी पंडितों' से है। पार्टी की योजना अब उन्हें आकर्षित करने की है।

इसकी वजह ये है कि किसान यात्रा के दौरान प्रदेश के कई इलाकों में कांग्रेस उपाध्यक्ष के पोस्टर लगे मिले...जिसमें उन्हें 'पंडित राहुल गांधी' लिखा गया था। पार्टी से जुड़े एक नेता के मुताबिक पार्टी 19 नवंबर के कैंपेन से पहले दलित वर्ग को फोकस करते हुए एक कार्यक्रम शुरू करने की योजना भी बना रही है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Congress undecided over inviting Priyanka Gandhi in campaign starts on indira birth anniversary.
Please Wait while comments are loading...