यूपी विधानसभा चुनवा 2017: वो मुद्दे जो BJP और SP दोनों के घोषणा पत्र में, लेकिन राय है अलग-अलग

यूपी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सपा और भाजपा ने फिलहाल घोषणा पत्र जारी कर दिया है। कई ऐसे मुद्दे हैं जो दोनों दलों की सूची में है लेकिन उन पर राय अलग-अलग है। आप भी जानें क्या है वो?

Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊभारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने उत्तर प्रदेश चुनाव के मद्देनजर लखनऊ में पार्टी का घोषणा पत्र जारी किया। वहीं बीते दिनों प्रदेश में सत्ताधारी दल समाजवादी पार्टी की ओर से घोषणा पत्र जारी किया जा चुका था। घोषणा पत्र जारी होने के बाद कई ऐसे मुद्दे सामने आए, जो दोनों दलों की सूची में है। हालांकि दोनों इस पर अलग-अलग राय रखते हैं। तो आईए बताते हैं कि वे कौन-कौन से मुद्दे दोनों दलों के घोषणा पत्र में है और उस पर दोनों की राय क्या है?

भाजपा और सपा दोनों ने लिया मेट्रो का आसरा

सपा ने अपने घोषणा पत्र में कहा है कि उनकी सरकार आने पर आगरा, कानपुर,वाराणसी और मेरठ में मेट्रो परियोजना शुरू की जाएगी। वहीं भाजपा ने मेट्रो के मुद्दे पर कहा कि लखनऊ, नोएडा मेट्रो का विस्तार किया जाएगा। दूसरी ओर मेट्रो के मुद्दे पर शाह ने कहा कि लखनऊ में मेट्रो है तो लेकिन क्या कोई चला है उस पर अभी तक?

 

डायल 100 योजना

सपा सरकार विपक्ष की ओर से हमेशा कानून और व्यवस्था के मुद्दे पर मात खाती रही है। सपा ने इस घोषणा पत्र में कहा है कि यूपी 100 नामक योजना को और भी प्रभावशाली बनाया जाएगा साथ ही वुमेन पावर लाइन 1090 का वि्तार किया जाएगा। सपा ने घोषणा पत्र में कहा है कि महिलाओं की सुरक्षा हेतु विशेष सतर्कता योजना बनाई जाएगी।

वहीं भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में कहा है कि रकार आने पर 100 हेल्पलाइन योजना में व्यापक सुधार और विस्तार करते हुए तय किया जाएगा कि सूबे में कहीं से भी कॉल करने पर 15 मिनट में पुलिस सहायता पहुंचाई जाए। कहा गया है कि सभी नागरिकों की सुरक्षा बगैर किसी जाति-धर्म भेदभाव के होगी। FIR कराना आसान होगा।महिलाओं की सुरक्षा के मुद्दे पर भाजपा की ओर से 3 विशेष बटालियन बनाए जाने की बात कही गई है।

महिलाओं की शिक्षा

सपा ने अपने घोषणा पत्र में वादा किया है कि महिलाओं के लिये निःशुल्क ई-रिक्शा की व्यवस्था करायी जायेगी साथ ही सभी महिलाओं को रोडवेज बसों में यात्रा करने पर आधे किराये की छूट दी जाएगी।

वहीं भाजपा के घोषणा पत्र में कहा गया है कि प्रदेश की सभी लड़कियों को अहिल्याबाई कन्या निशुल्क शिक्षा के अंतर्गत स्नातक स्तर तक की शिक्षा नि:शुल्क प्रदान की जाएगी। कॉलेज में दाखिला लेने पर प्रदेश के सभी युवाओं को जाति और धर्म के भेदभाव के बिना मुफ्त लैपटॉप दिया जाएगा। इसमें एक साल के लिए एक जीबी डाटा भी मुहैया कराई जाएगी। कहा गया है कि कन्याओं की शिक्षा सुनिश्चित करने के लिए बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना को पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा।

किसानों के लिए

सपा के घोषणा पत्र में वादा किया गया है कि किसानों की फसल के स्टॉक को सुरक्षित रखने तथा उनकी उपज का बेहतर मूल्य दिलाने की व्यवस्था की जायेगी। साथ ही अधिक से अधिक बंजर भूमि को उपजाऊ बनाया जायेगा अथवा उनमें सोशल फारेस्ट्री की जायेगी। कहा गया है कि बुन्देलखण्ड में पानी की उपलब्धता हेतु ऐसी व्यवस्था की जायेगी, जिससे वहाँ के किसान वर्ष में दो फसलें उगा सकें।

वहीं भाजपा ने कहा है कि सभी लघु एवं सीमांत किसानों का फसली ऋण माफ किया जाएगा। दीन दयाल सुरक्षा बीमा योजना के तहत भूमिहीन कृषि मजदूरों का 2 लाख रुपये तक का बीमा मुफ्त करवाया जाएगा। कहा गया है कि प्रदेश के हर ब्लॉक पर गोदाम और कोल्ड स्टोरेज की व्यवस्था होगी। 3 साल में हर किसान के पास सॉइल कार्ड होगा।

 

शिक्षा के क्षेत्र में दोनों के वादे लगभग एक

सपा ने शिक्षा के क्षेत्र में तमाम वादे करते हुए कहा है कि सभी विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में उच्च स्तर की गुणवत्ता की शिक्षा सुनिश्चित की जाएगी। विश्वविद्यालयों और कॉलेजों को वाई-फाई युक्त किया जायेगा। साथ ही निर्धन मेधावी छात्र-छात्राओं की उच्च शिक्षा हेतु स्कॉलरशिप की एक विश्वविद्यालयों औप बड़े कालेजों तक छात्र-छात्राओं को पहुंचाने के लिये विशेष बस सेवा प्रारम्भ की जायेगी।

शिक्षा पर भाजपा ने का वादा

भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में कहा है कि प्रदेश के कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में 'शोध एवं विकास' पर विशेष जोर दिया जाएगा। प्रदेश में अंतर्राष्ट्रीय स्तर के 10 नए विश्वविद्यालयों की स्थापना की जाएगी। प्रदेश के सभी शिक्षा मित्रों की रोजगार समस्या को 3 महीने में न्यायोचित तरीकों से सुलझाया जाएगा।

कहा गया है कि प्रदेश में एक नए महामना पंडित मदन मोहन मालवीय संस्कृत विश्वविद्यालय की स्थापना की जाएगी। कहा गया है कि गरीब छात्रों की उच्च शिक्षा के लिए 500 करोड़ रुपये के बाबा साहेब आंबेडकर छात्रवृत्ति कोष की स्थापना की जाएगी।

बिजली के मुद्दे पर भी भाजपा और सपा ने 24 घंटे मुहैया कराने की बात कही है साथ ही एक ओर जहां सपा स्मार्टफोन देने की बात कर रही है वहीं भाजपा ने भी लैपटॉप का वादा किया है।

ये भी पढ़ें: यूपी विधानसभा चुनाव के लिए राम की ओर लौटी BJP, अमित शाह ने कहा - संवैधानिक तरीकों से बनेगा राम मंदिर

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Comparison of samajwadi party and bjp's manifesto regaridng up assembly election 2017
Please Wait while comments are loading...